Saturday , June 22 2024

पंजाब में विहिप नेता हत्या मामले में एनआईए चार गैंगस्टरों को प्रोडक्शन वारंट पर लाई

पाकिस्तानी हैंडलरों के कहने पर हुई थी हत्या
खबर खास, चंडीगढ़:
केंद्रीय राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने पंजाब के रोपड़ जिले के नंगल में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) नेता विकास प्रभाकर उर्फ ​​विकास बग्गा की हत्या की जांच शुरू कर दी थी। इस मामले में एनआईए ने पंजाब की विभिन्न जेलों से करीब 4 गैंगस्टरों को प्रोडक्शन वारंट पर लाया है। पुलिस पिछले चार दिनों से इनसे पूछताछ कर रही है। आरोपियों को कल फिर से कोर्ट में पेश किया जाएगा।
प्रोडक्शन वारंट पर लाए गए आरोपियों में सुरिंदर कुमार उर्फ ​​रिक्का निवासी नवांशहर, मनदीप कुमार उर्फ ​​मंगाली उर्फ ​​मंगी निवासी नवांशहर, गुरप्रीत राम निवासी पन्नू माजरा, एसबीएस नगर और जगजीत राजू निवासी माहिलपुर, जिला होशियारपुर शामिल हैं।
इन सभी को पंजाब पुलिस की टीमों ने गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन एनआईए द्वारा मामला दर्ज करने के बाद एजेंसी पहली बार उक्त आरोपियों से पूछताछ कर रही है। प्रभाकर हत्याकांड में पंजाब पुलिस ने दावा किया था कि आरोपियों के पाकिस्तान से संबंध हैं और हत्या भी पाकिस्तान के इशारे पर की गई थी।
गौर रहे कि विकास प्रभाकर उर्फ विकास बग्गा की हत्या के 2 दिन बाद पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों मनदीप कुमार उर्फ मंगी और सुरिंदर कुमार उर्फ रिक्का को गिरफ्तार किया था। पुलिस की प्राथमिक पूछताछ में इन्होंने खुलासा किया कि प्रभाकर की हत्या के लिए ऑर्डर पाकिस्तान मैं बैठे उनके आका ने दिए थे। मगर हत्या के लिए उनको फंडिंग पुर्तगाल से की गई थी।
पंजाब के डीजीपी गौरव यादव ने ये दावा किया था कि आईएसआई के कहने पर दोनों आरोपी काफी समय से पंजाब में काम कर रहे थे। इनको पंजाब पुलिस की एजेंसी स्टेट स्पेशल ऑपरेटिंग सेल (एसएसओसी) मोहाली द्वारा गिरफ्तार किया गया था।