Saturday , June 15 2024

राजपुरा में पंजाब का मुख्य औद्योगिक केंद्र बनने की सभी विशेषताएः परनीत कौर

युवाओं को रोजगार के नए अवसर देने के लिए राजपुरा का औद्योगिक विकास जरूरी
खबर खास, पटियाला :
भारतीय जनता पार्टी की पटियाला लोकसभा सीट से प्रत्याशी परनीत कौर ने शनिवार को डेराबस्सी, राजपुरा और घनौर इलाकों में राजनीतिक जनसभाओं में अपनी पटियाला और पंजाब के उज्वल भविष्य का हवाला देकर लोगों से अपने लिए वोट मांगे। जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा नेता परनीत कौर ने कहा कि भूगोलिक परिस्थितियों के आधार पर वह दावे के साथ कह सकती हैं कि राजपुरा में पंजाब का मुख्य औद्योगिक केंद्र बनने की सभी विशेषताएँ हैं।
उन्होंने कहा कि पटियाला वासियों के भरोसे की ताकत से वह मोदी सरकार का हिस्सा बनने जा रही हैं और उनके महत्वपूर्ण सपनों में से एक सपना है कि वह राजपुरा को पंजाब का मुख्य औद्योगिक केंद्र बनाएं। रेल, रोड और हवाई मार्ग की सुविधा वाला राजपुरा यदि पंजाब की मुख्य औद्योगिक इकाई बनता है तो इससे हमारे युवाओं को रोजगार के नए अवसर मिल सकेंगे। कई विदेशी कंपनियां बड़ी औद्योगिक इकाईयों के लिए राजपुरा को अपनी पहली पसंद में रखे हुए हैं। मेक इन इंडिया के तहत देश के प्रधानमंत्री लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद संभालने के बाद राजपुरा को पंजाब की मुख्य औद्योगिक केंद्र के रूप में विकसित करने के लिए बड़ा आर्थिक पैकेज दें, इसके लिए वह भरसक प्रयास करेंगी और उन्हें पता है कि उद्योगों को विकसित करने के लिए नरिंदर मोदी ने कभी किसी राज्य को निराश नहीं किया।
भाजपा नेता परनीत कौर ने कमल के फूल पर 1 जून को मोहर लगाकर मोदी के हाथों पंजाब का भविष्य संवारने की अपील करते हुए कहा कि राजपुरा में बिना किसी बड़ी सरकारी सहायता के आज राजपुरा गुणवत्तापूर्ण फर्नीचर के लिए अपनी एक भिन्न पहचान रखता है। नाभा और सनौर भी फर्नीचर के मामले में किसी से पीछे नहीं है और यहां बनाए फर्नीचर को विदेशों में खूब पसंद किया जा रहा है। कई प्रसिद्ध ब्रांडों का निर्माण राजपुरा में हो रहा है। राजपुरा पंजाब के भंजारण और लाजिस्टिक केंद्र के रूप में तेजी से उभर रहा है।परनीत कौर ने शनिवार को अपने राजपुरा दौरे के दौरान गांव नलास में स्थित भगवान शिव के प्राचीन मंदिर में माथा टेककर आर्शीवाद लिया। मंदिर से बाहर आ के बाद उन्होंने मीडिया से बातचीत दौरान कहा कि राजपुरा और यहां रहने वाले लोगों को नालास में स्थित भगवान श्री शिव का आर्शीवाद प्राप्त है। 15वीं शताब्दी से ही राजपुरा का नालास क्षेत्र साधु संतों का निवास स्थान रहा है। शायद इसी कारण से राजपुरा ने तरक्की की नई ऊंचाईयों को छू कर प्रगति की है। नैशनल हाईवे नंबर-1 और पंजाब में भारतीय रेल का मुख्य प्रवेश द्वार राजपुरा में होने के कारण यहां उद्योगों को विकसित करना आसान बना दिया है। परनीत कौर ने राजपुरा वासियों से वायदा किया कि उन्हें संसद तक पहुंचाने की जिम्मेदारी राजपुरा वासियों की है, लेकिन हरियाणा सीमा से सटे राजपुरा के लिए बड़ा विकास फंड नरिंदर भाई मोदी से लाकर देना उनकी जिम्मेदारी होगा।
इस अवसर पर उनके साथ केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गाजिंदर सिंह शिखावत, हलका प्रभारी जगदीश कुमार जग्गा, घनौर हलका प्रभारी विकास शर्मा, शेखर चौधरी, प्रदीप नंदा, नंद लाल, रुपिंदर सिंह, य्मरजीत उकसी, अश्वनी वर्मा, दलबीर सिंह, शिव कुमार, कृष्ण कुमार, करमपाल गिर, रविंदर सिंह, शांति सपरा, मनु भगतगढ़, ओम प्रकाश भारती, भाजपा मंडल प्रधान और बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।