Monday , April 15 2024

लोकसभा मतदान-2024 : जि़ला अधिकारी गलत जानकारियों और सूचनाओं का तुरंत करें खंडन : सिबिन सी

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने की उपायुक्तों, पुलिस कमिश्नरों और एसएसपी के साथ उच्च् स्तरीय बैठक
कहा, जिलों में होने वाली किसी भी घटना की जानकारी तुरंत करवाई जाए मुहैया
मतदान के दौरान सोशल मीडिया प्लेटफार्मों का करें योग्य प्रयोग
खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सिबिन सी ने सभी डिप्टी कमिश्नरों, पुलिस कमिश्नरों और एसएसपीज़ को हिदायत की है कि लोक सभा मतदान- 2024 के दौरान यदि किसी भी प्रकार की कोई गलत जानकारी या सूचना फैलती है तो उसका खंडन तुरंत किया जाये। उन्होंने कहा कि इस मकसद के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्मों का योग्य प्रयोग किया जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने ज़ोर दिया कि मतदान के दौरान अलग- अलग सोशल मीडिया प्लेटफार्मों का प्रयोग वोटरों तक ज़रूरी संदेश और जानकारियां पहुँचाने के लिए भी किया जाये।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये पंजाब के सभी डिप्टी कमिश्नरों, पुलिस कमिश्नरों और एसएसपीज़ के साथ एक उच्च स्तरीय मीटिंग करते हुए सिबिन सी ने कहा कि मतदान बिना पक्षपात के पारदर्शी और बिना किसी दबाव के करवाए जाएँ। उन्होंने कहा कि चुनावी अमला भारत निर्वाचन आयोग की हिदायतों की पालना को यथावत लागू करवाने के लिए पाबंद है और किसी भी प्रकार की ढील बर्दाश्त नहीं की जायेगी। लापरवाही करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के विरुद्ध बनती कार्यवाही की जायेगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया के दौरान किसी भी प्रकार की शिकायत का निपटारा भारत निर्वाचन आयोग की तरफ से तय समय-सीमा के अंदर किया जाना अनिवार्य है। उन्होंने हिदायत की कि किसी भी जि़ले में यदि कोई घटना घटती है तो इसकी तुरंत सूचना दी जाये, जिससे ज़रुरी कदम उठाए जा सकें। उन्होंने जि़ला अधिकारियों को मतदान के दौरान फुर्ती और चुस्ती के साथ काम करने के लिए प्रेरित किया।

सिबिन सी ने कहा कि पोलिंग प्रतिशतता बढ़ाने के लिए ‘इस बार 70 पार’ के नारे को अमली जामा पहनाने के लिए सभी जि़ले उन इलाकों की शिनाख़्त करके गतिविधियां बढ़ाएं जहाँ पिछले मतदान के दौरान वोट प्रतिशतता कम रही थी। इसके साथ ही उन्होंने निर्देश दिए कि चुनाव प्रक्रिया के दौरान यदि कोई भी राजनैतिक पार्टी किसी प्रकार की इजाज़त मांगती है तो उसका निपटारा निर्धारित समय-सीमा के अंदर किया जाये। उन्होंने कहा कि जि़ला अधिकारी राजनैतिक पार्टियों के साथ मीटिंगें करके उनके प्रतिनिधियों को निर्वाचन आयोग की हिदायतों और नियमों से अवगत करवाते रहें।

उन्होंने डिप्टी कमिश्नरों-कम-जि़ला निर्वाचन अधिकारियों को कहा कि चुनाव आचार संहिता लगने के बाद सभी सरकारी इमारतों पर लगी राजनैतिक शख्सियतों की तस्वीरों को हटाने / ढकने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों/ कर्मचारियों को अब से ही हिदायतें जारी कर दी जाएँ। इसके साथ ही मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने चुनावी अमले और वोटरों को ज़रूरी सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए और सर्वोत्त्म पोलिंग स्टेशन बनाने के लिए जि़ला अधिकारियों को प्रेरित किया।

इस मौके पर सिबिन सी ने सभी जिलों की चुनावी गतिविधियों के बारे में जानकारी हासिल की और फीडबैक भी ली। उन्होंने जि़ला अधिकारियों को ज़रूरी दिशा-निर्देश जारी किये और भारत निर्वाचन आयोग की हिदायतों के अनुसार बनाईं जाने वाली कमेटियां/ टीमें/ सैल को समय पर बना लेने के लिए कहा। मीटिंग के दौरान एडीजीपी- कम- लोक सभा मतदान के नोडल अधिकारी एम.एम. फारूकी ने मतदान के दौरान सुरक्षा के साथ जुड़े मुद्दों संबंधी विस्तार में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस और बाकी सुरक्षा फोर्स मतदान को पारदर्शी और शांतिपूर्ण ढंग से पूरा करने के लिए वचनबद्ध हैं। मीटिंग के दौरान अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी हरीश नय्यर और अभिजीत कपलिश, ज्वाइंट मुख्य निर्वाचन अधिकारी सकत्तर सिंह बल के अलावा मुख्य निर्वाचन अधिकारी के दफ़्तर वाले अन्य अधिकारी और पंजाब पुलिस के अधिकारी उपस्थित थे।

The post लोकसभा मतदान-2024 : जि़ला अधिकारी गलत जानकारियों और सूचनाओं का तुरंत करें खंडन : सिबिन सी first appeared on Khabar Khaas.