Monday , April 15 2024

किसानों का रेल रोको आंदोलन: स्थानों पर रेल ट्रैक जाम, स्टेशनों पर भी धरना प्रदर्शन, कई ट्रेनों को रोका गया

चंडीगढ़. किसान मजदूर मोर्चा और संयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनीतिक) के आह्वान पर भारतीय किसान यूनियन आजाद और सिद्धूपुरा ने सुनाम रेलवे स्टेशन पर रेलवे ट्रैक जाम किया. भारतीय किसान यूनियन एकता आजाद और सिद्धूपुरा के नेताओं ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार पूरी तरह से किसान विरोधी है. राज्य सरकार भी किसानों के प्रति गंभीर नहीं है.
 नेताओं ने कहा कि जब तक केंद्र सरकार उनकी मांगों को लागू नहीं करेगी, यह संघर्ष चलता रहेगा. किसान नेता जसविंदर सिंह लोंगोवाल, जसवीर सिंह मेदेवास और रण सिंह ने कहा कि किसानों के साथ दुश्मन की तरह व्यवहार को सहन नहीं किया जा सकता है. केंद्र व हरियाणा सरकार ने किसानों पर अत्याचार किए हैं.

बठिंडा-श्रीगंगानगर के बीच नहीं चली कोई ट्रेन

पंजाब के अबोहर में किसान संगठनों ने रेलवे ट्रैक जाम किया. भाकियू खोसा के प्रांतीय सचिव गुणवंत सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार की कारपोरेट हितैषी नीतियां किसानों को खत्म करने पर तुली हैं. इसके विरोध में पिछले 17 दिनों से शंभू बॉर्डर पर धरना चल रहा है लेकिन सरकार किसानों की मांगों पर कोई ध्यान नहीं दे रही है. आज बठिंडा-श्रीगंगानगर के बीच कोई ट्रेन नहीं चली. उन्होंने कहा कि सरकार की इसी किसान विरोधी नीति के खिलाफ आज पूरे पंजाब में रेल रोको आंदोलन चलाया गया.

मालगाड़ी के इंजन पर चढऩे की कोशिश

शंभू टोल के पास रेलवे ट्रैक पर किसानों ने मालगाड़ी के इंजन पर चढऩे का प्रयास. इस पर तुरंत पुलिस ने उन्हें रोका और किसान नेताओं को समझा कर पीछे किया. उधर, ऐलनाबाद में किसानों व पुलिस कर्मियों के बीच झड़प हो गई. इसके बाद पुलिस ने किसानों को हिरासत में ले लिया.

लुधियाना स्टेशन पर ट्रेनों को रोका गया

अमृतसर रेलवे स्टेशन पर किसानों ने प्रदर्शन किया. वहीं देवीदासपुरा में रेल ट्रैक बाधित किया. अबोहर और बठिंडा में भी किसानों का रेल ट्रैक पर धरना जारी है. उधर, लुधियाना रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों को रोका गया है.

सिरसा में किसान नेता नजरबंद

हरियाणा के सिरसा के किसान नेता मिठू सिंह ने अपने फेसबुक के माध्यम से जानकारी दी कि उन्हें पुलिस ने नजरबंद कर दिया है. मिठू कंबोज ने वीडियो जारी कर बताया कि संयुक्त किसान मोर्चा ने आज 12 से चार बजे तक पूरे देश में रेल रोकने का आह्वान किया था. डबवाली में भी हरियाणा किसान एकता डबवाली के बैनर तले रेले रोकना था. मगर पुलिस ने सुबह ही घर में नजरबंद कर दिया. उधर, सिरसा में पुलिस बल, बैरिकेडिंग, एंबुलेंस और दमकल की गाडिय़ों को तैनात किया गया है.

शंभू बॉर्डर पर भी रेलवे ट्रैक पर बैठे किसान

शंभू बॉर्डर पर किसान नेता रेलवे ट्रैक पर बैठे हैं. मोहाली रेलवे स्टेशन पर भी रेल ट्रैक पर किसान मौजूद हैं. ऐसा ही नजारा सरसिनी रेलवे ट्रैक पर भी देखने को मिल रहा है. हालांकि अंबाला के मोहड़ा रेलवे ट्रैक पर किसान नहीं पहुंचे हैं. यहां पर भारी पुलिस बल तैनात है. अमृतसर, जालंधर और सुनाम में किसान रेलवे ट्रैक पर बैठे हैं. इस वजह से ट्रेनों को रोका गया है. आसपास पुलिस के जवान भी मुस्तैद हैं.

 अमृतसर में पुलिस मुस्तैद

किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के मद्देनजर अमृतसर के देवीदासपुरा में भारी पुलिस की तैनाती की गई है. डीएसपी ग्रामीण इंद्रजीत सिंह ने कहा कि किसान संगठनों ने आज दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक रेल रोको का ऐलान किया है. कानून-व्यवस्था प्रभावित न हो, इसके लिए यहां करीब 150 जवान ड्यूटी पर हैं.