Saturday , April 20 2024

बिल का भुगतान के बदले 15,000 रुपए रिश्वत लेते ईएसआई क्लर्क विजिलेंस ने किया गिरफ्तार

खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने ईएसआई डिस्पैंसी ढंडारी कलां, लुधियाना में बतौर क्लर्क रविंदर सिंह को 15,000 रुपए रिश्वत मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया है।
इस बात की जानकारी देते हुए विजिलेंस प्रवक्ता ने बताया कि इस आरोपी को लुधियाना के चनकोईयां निवासी राजवंत सिंह की ओर से दर्ज शिकायत के आधार पर गिरफ्तार किया गया है।
शिकायतकर्ता के मुताबिक उसने डीएमसी अस्पताल लुधियाना में अपना इलाज करवाया था और ईएसआई स्कीम के तहत मुफ्त इलाज का लाभार्थी होने के कारण उसके 4,78,136 रुपए के बिल ई.एस.आई. डिस्पैंसरी में भुगतान के लिए बकाया पड़े हैं। शिकायतकर्ता का आरोप है कि सम्बन्धित डीलिंग क्लर्क रविन्दर सिंह ने उसके बिल का भुगतान करने के बदले रिश्वत के तौर पर 30,000 रुपए की मांग की है और कहा है कि रिश्वत न देने की सूरत में कुल रकम में से केवल 1,25,000 रुपए के बिल ही के पास किए जाएंगे। मुलजिम क्लर्क ने शिकायतकर्ता को रिश्वत दो किश्तों में देने के लिए कहा, जिसमें 20,000 रुपए पेशगी और बाकी 10,000 रुपए बाद में देने के लिए कहा गया।
उन्होंने आगे बताया कि रविन्दर सिंह क्लर्क ने शिकायतकर्ता को यह भी कहा कि उसने रिश्वत की रकम चंडीगढ़ में तैनात सम्बन्धित अधिकारी के साथ भी साझी करनी है। शिकायतकर्ता ने आरोपी के साथ हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग अपने फ़ोन में कर ली और विजीलैंस ब्यूरो को सबूत के तौर पर सौंप दी।
प्रवक्ता ने बताया कि इस शिकायत की प्राथमिक पड़ताल के उपरांत विजिलेंस ब्यूरो रेंज लुधियाना ने जाल बिछाकर उक्त मुलजिम को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में शिकायतकर्ता से रिश्वत की पहली किश्त के तौर पर 15,000 रुपए लेते हुए रंगे हाथों काबू कर लिया। इस सम्बन्धी थाना विजीलैंस ब्यूरो रेंज लुधियाना में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम कानून के अंतर्गत केस दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि मुलजिमों को कल अदालत में पेश किया जायेगा और जांच के दौरान अन्य कर्मचारियों की भूमिका की भी जांच की जायेगी।

The post बिल का भुगतान के बदले 15,000 रुपए रिश्वत लेते ईएसआई क्लर्क विजिलेंस ने किया गिरफ्तार first appeared on Khabar Khaas.