Saturday , June 22 2024

एजीटीएफ ने इकबाल बुच्ची द्वारा संचालित आतंकी माड्यूल के दौ और गुर्गों को दो पिस्तौलों समेत किया गिरफ्तार

इन गिरफ्तारियों से पुलिस ने पंजाब और पड़ोसी राज्यों में संभावित अपराधों पर डाली नकेल : डीजीपी
इससे पहले एजीटीएफ ने इस माड्यूल के मुख्य संचालक गुरविन्दर शेरा सहित चार सदस्यों को कर चुकी है गिरफ्तार
खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब पुलिस की एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (एजीटीऐफ) ने बड़ी सफलता हासिल करते हुये फॉलो-अप आपरेशन के दौरान विदेश आधारित मास्टरमाईंड इकबालप्रीत सिंह उर्फ बुच्ची द्वारा संचालित आतंकवादी माड्यूल के दो और गुर्गों को गिरफ़्तार किया। यह जानकारी आज यहां डीजीपी पंजाब गौरव यादव ने दी। पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपियों की पहचान लुधियाना निवासी सिमरजोत सिंह और पटियाला के अर्शप्रीत सिंह उर्फ अर्श के तौर पर हुई है। पुलिस टीमों ने इनके कब्ज़े में से दो पिस्तौलों- .30 बोर और .32 बोर-समेत 11 जिंदा कारतूस बरामद किये हैं।
इससे पहले पुलिस ने इस माड्यूल के मुख्य संचालक गुरविंदर सिंह उर्फ शेरा समेत तीन सदस्यों को तीन पिस्तौलों और 13 जिंदा कारतूसों समेत 14 मई को गिरफ्तार किया था। उल्लेखनीय है कि इकबालप्रीत बुच्ची, रमनदीप बग्गा उर्फ कैनेडियन, जोकि 2016- 2017 के दौरान टारगेट कत्ल की हुई सात वारदातों का मुख्य शूटर था और इस समय गैर कानूनी गतिविधियां (रोकथाम) एक्ट (यूएपीए) के दोषों के अंतर्गत तिहाड़ जेल में बंद है, का नज़दीकी साथी है।
डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि भरोसेमन्द सूचना पर कार्यवाही करते हुये एडीजीपी प्रमोद बाण के समुच्चे नेतृत्व में एजीटीएफ की टीमों ने लुधियाना के कोचर मार्केट रोड के क्षेत्र में स्थित एक घर पर छापा मारा और दोनों मुलजिमों को हथियारों सहित गिरफ़्तार कर लिया। पुलिस टीमों की निगरानी एआईजी गुरमीत सिंह चौहान और एआईजी सन्दीप गोयल और नेतृत्व डीएसपी बिकरमजीत सिंह बराड़ द्वारा किया गया।
उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस ने दोनों आरोपियों की गिरफ़्तारी से पंजाब और पड़ोसी राज्यों में संभावित सनसनीखेज़ वारदातों पर नकेल डाली है। उन्होंने बताया कि गिरफ़्तार किये गए दोनों मुलजिमों की आपराधिक पृष्टभूमि है, उनके खि़लाफ़ पंजाब और राजस्थान में कत्ल, इरादा कत्ल, हथियार एक्ट और एनडीपीएस एक्ट के तहत मामले दर्ज हैं।
डीजीपी ने कहा कि इस मामले में अगली- पिछली संबंधों का पता लगाने के लिए और जांच जारी है।