Saturday , June 15 2024

कानपुर: गर्मी में गंगा नहाने गए 3 भाई-बहनों की मौत, तेज बहाव में समाए, तीनों के शव मिले

कानपुर. यूपी के कानपुर में गर्मी में गंगा नहाने गए तीन भाई-बहनों की डूबने से मौत हो गई. हादसा गुरुवार सुबह अरौल थाना क्षेत्र के आकिन घाट पर हुआ. अधिक गहराई में उतरने के चलते तीनों तेज बहाव में आ गए और गंगा में समा गए. चीख-पुकार सुन घाट पर मौजूद लोग और गोताखोरों ने पानी में छलांग लगाई. उन्हें बचाने की कोशिश की, लेकिन तीनों डूब गए थे. इसके बाद अरौल थाने की पुलिस और एसीपी बिल्हौर मौके पर पहुंचे. गोताखोरों की मदद से तीनों के शव को बाहर निकाला. तीनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

अरौल थाना क्षेत्र के आकिन पुरवा में रहने वाले हरि प्रसाद और फूलचंद सगे भाई हैं. हरि प्रसाद ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब 9 बजे उनके दो बच्चे ज्ञान गौतम (6), प्रिया (10) और उनके भाई फूलचंद की बेटी एकता (6) घर में बिना बताए आकिन घाट पर नहाने पहुंच गए थे. सुबह 9:45 बजे नहाने के दौरान तीनों बच्चे गंगा में ज्यादा गहराई में उतर गए. तेज बहाव की चपेट में आने से गंगा में डूब गए..

2 घंटे बाद तीनों के शव बरामद हुए

हादसे की जानकारी मिलते ही माता-पिता और परिवार, गांव के सैकड़ों लोग घाट पर पहुंच गए. बिल्हौर एसीपी अजय कुमार त्रिवेदी, अरौल थाना प्रभारी ने गोताखोरों की मदद से शव की तलाश शुरू की. करीब दो घंटे बाद 12 बजे तीनों के शव गोताखोरों ने गंगा में बरामद कर लिया. एसीपी बिल्हौर अजय कुमार त्रिवेदी ने बताया कि नहाने के दौरान तीनों बच्चों की गंगा में डूबने से मौत हुई है. तीनों बच्चे एक ही परिवार के हैं. शव बरामद करने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

रो-रो कर माता-पिता बदहवास

बच्चों का शव गंगा से बाहर निकलते ही बच्चों की मां और पिता शव को सीने से लगाकर रोने लगे. परिवार के लोगों ने उन्हें संभालने की कोशिश की, लेकिन बच्चों की मौत से घरवाले आपा खो बैठे. माता-पिता को रोता-बिलखता देख वहां मौजूद सैकड़ों ग्रामीण और पुलिस कर्मियों की भी आंखें नम हो गईं. पुलिस किसी तरह तीनों बच्चों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज. परिवार के लोग पोस्टमार्टम कराने को राजी नहीं थे.