Tuesday , June 18 2024

बुढलाडा में सीएम मान ने कहा-यहां से मेरा काफी पुराना रिश्ता

बठिंडा से आप उम्मीदवार गुरमीत खुड्डियां के लिए किया प्रचार

भगवंत मान ने कहा – मैं खुद एक सरकारी मुलाजिम का बेटा हूं, आपके सभी मसलों का समाधान करूंगा,

ओपीएस पर केन्द्र को घेरा, कहा – केन्द्र सरकार ने ओपीएस के 20 हजार करोड़ रोके हुए है, 4 जून को इंडिया गठबंधन की सरकार बनेगी, फिर उस पैसे को लाकर पुरानी पेंशन योजना करेंगे लागू

हमने बिना किसी भेदभाव और रिश्वत के 43 हजार सरकारी नौकरियां दी, एक गांव में तो 40 नौजवानों को नौकरी मिली, अब गांव में लोग आपस के गांवों से नौकरियों की संख्या की तुलना करने लगे हैं

एक्स सर्विस मैन संगठन के नेताओं ने मुख्यमंत्री भगवंत मान को किया सम्मानित

खबर खास, बठिंडा/चंडीगढ़ :

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बठिंडा से आम आदमी पार्टी(आप) के उम्मीदवार गुरमीत सिंह खुड्डियां के लिए चुनाव प्रचार किया। उन्होंने बुढलाडा में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया और लोगों से आम आदमी पार्टी को जिताने की अपील की।

जनसभा को संबोधित करते हुए भगवंत मान ने कहा कि बुढलाडा से मेरा काफी पुराना रिश्ता है। यहां की मंडी में मैं नरमा की ट्राली लेकर आया करता था। अभी भी मैं यहां के कई वैसे लोगों को नाम सहित जानता हूं जिनसे उस समय मैं मिला करता था।

जनसभा को संबोधित करने से पहले मुख्यमंत्री भगवंत मान को एक्स सर्विस मैन संगठन के नेताओं ने सम्मानित किया और उनसे अपनी समस्याएं साझा की। मान ने उन्हें भरोसा दिया और कहा कि मैं खुद एक सरकारी मुलाजिम का बेटा हूं। इसलिए आपकी समस्याओं को मैं समझ सकता हूं। मैं आपके सभी मसलों का जल्द समाधान करूंगा।

ओल्ड पेंशन स्कीम (ओपीएस) के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने केन्द्र सरकार को घेरा और आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार ने ओपीएस फंड के पंजाब के 20 हजार करोड़ रोक रखी है। जिस बैंक में वह फंड रखा था उससे लोन लेकर विजय माल्या विदेश भाग गया। उन्होंने कहा कि 4 जून को केन्द्र में इंडिया गठबंधन की सरकार बनने जा रही है, फिर हम उस पैसे को लाकर पुरानी पेंशन योजना लागू करेंगे।

उन्होंने कहा कि हमने बिना किसी भेदभाव के पंजाब के 43 हजार नौजवानों को सरकारी नौकरियां दी। उन्होंने कहा कि सरदूलगढ़ के एक गांव करंडी में तो 40 नौजवानों को नौकरी मिली। अब गांव में लोग आपस के गांवों से नौकरियों की संख्या की तुलना करने लगे हैं और कहते हैं हमने दो साल में वो कर दिखाया जो 70 सालों में नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि सरकारी नौकरियां मिलने से पंजाब के कई नौजवानों ने विदेश जाने की अपनी योजना रद्द कर दी और कई वापस आ गए। उन्होंने बिजली विभाग में एसडीओ बनी एक लड़की की कहानी सुनाई कि वह लड़की कनाडा जाने वाली थी, इसके लिए उसके घरवालों ने पैसे का भी इंतजाम कर लिया था, लेकिन जाने से कुछ दिन पहले उसे ज्वाइनिंग लेटर मिला फिर उसने बाहर जाने का प्लान कैंसिल कर दिया।

उन्होंने कहा कि नौकरी के मामले में मैं अपने विधायकों और मंत्रियों की भी सिफारिश नहीं सुनता हूं। एक बार मेरे एक विधायक ने मुझे अपने करीबी रिश्तेदार को नौकरी लगाने के लिए सिफारिश की थी, मैंने उसे तुरंत मना कर दिया और आगे से ऐसी सिफारिश न करने की चेतावनी दी।

उन्होंने कहा कि मैं भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करता। सरकार बनने के बाद हमने भ्रष्टाचार के खिलाफ लोगों की शिकायत के लिए एक नंबर जारी किया। उस नंबर पर मिले शिकायतों के आधार पर हमने करीब 850 से ज्यादा भ्रष्ट कर्मचारियों पर कार्रवाई की और उन्हें जेल भेजा। एक बार हमने रजिस्ट्री ऑफिस के तीन कर्मचारियों को घूस लेते हुए पकड़ा, फिर हमने उस मामले की जांच कर आदेश जारी किया कि रजिस्ट्री के पेपर पर शब्दों को आसान पंजाबी भाषा में लिखा जाए ताकि कोई भी आम आदमी और किसान उसे पढ़ सके।

उन्होंने कहा कि आम लोगों की सुविधा के लिए मैंने बिजली मुफ्त किए और किसानों के लिए दिन में ही बिना कट लगाए पर्याप्त बिजली की व्यवस्था की, ताकि उनका समय और ऊर्जा बर्बाद न हो। उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार हमारी सरकार ने प्राइवेट थर्मल पावर प्लांट खरीदा। इससे बिजली का उत्पादन काफी बढ़ेगा और बिजली सस्ती भी होगी।

भाषण के दौरान मान ने अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल और बादल परिवार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि वह महिलाओं की चुन्नियों में भी पैसे खा गई। 200 रूपये वाली चुन्नी खुद ले गई और 50 रूपये वाली चुन्नी महिलाओं को थमा गई। उन्होंने कहा कि हरसिमरत कौर बादल को ठीक से पंजाबी बोलने भी नहीं आती।

सुखबीर बादल पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि सुख विलास होटल पंजाब के लोगों के खून पसीने से बना है। उस होटल के प्रत्येक कमरे के साथ एक पूल है। उन्होंने कहा कि हम सुख विलास को पंजाब सरकार के कब्जे में लेंगे और उसको स्कूल में बदल देंगे। वह हर कमरे के साथ पूल वाला पहला स्कूल होगा। इसके लिए हमने एक नारा भी तैयार कर रखा है, ‘दुनिया का पहला स्कूल, जिसके हर एक कमरे के पीछे पूल।

बादल परिवार ने कभी भी पंजाब के लोगों की चिंता नहीं की, इन्होंने सिर्फ अपने परिवार के लोगों को विधायक सांसद और मंत्री बनाया – गुरमीत खुड्डियां

लोगों को संबोधित करते हुए आप उम्मीदवार गुरमीत सिंह खुड्डियां ने बादल परिवार परिवार पर हमला बोला और कहा कि उन लोगों ने कभी भी पंजाब के लोगों की चिंता नहीं की। इन्होंने सिर्फ अपने परिवार के लोगों को विधायक सांसद और मंत्री बनाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार में मंत्री रहते हुए हरसिमरत कौर बादल ने कभी भी पंजाब की किसानी और पानी का मुद्दा नहीं उठाया, उल्टे उन्होंने मोदी सरकार के काले कृषि कानूनों पर अपनी सहमति दी और हस्ताक्षर किए।