Saturday , June 15 2024

विजिलेंस ने 12 हजार रिश्वत लेते पीएसपीसीएल के लाईनमैन और पूर्व सरपंच को किया गिरफ्तार

बिजली का मीटर लगाने के बदले 12 हजार रुपए रिश्वत लेने के आरोप
खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने सोमवार को पीएएसपीसीएल कार्यालय लुधियाना जिले के खन्ना-2 में तैनात लाईनमैन मनजिंदर सिंह उर्फ राजू और गांव दुलवां के पूर्व सरपंच परमजीत सिंह को 12 हजार रुपए रिश्वत लेने के आरोप गिरफ्तार किया गया है।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए आज यहां विजिलेंस ब्यूरो के सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि यह मुकदमा सहायक सब इंस्पेक्टर (सेवामुक्त) बलविन्दर सिंह निवासी गुरू नानक नगर कॉलोनी, खन्ना द्वारा मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार विरोधी एक्शन लाईन पर दर्ज करवाई गई शिकायत की जांच के आधार पर दर्ज किया गया है। उन्होंने आगे बताया कि शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में दोष लगाया है कि उसने अपने प्लॉट के लिए बिजली का नया मीटर लगाने के लिए आवेदन किया था, परन्तु इलाके के लाईनमैन मनजिन्दर सिंह ने पूर्व सरपंच परमजीत सिंह के द्वारा 15,000 रुपए की रिश्वत की मांग की थी, परन्तु सौदा 12,000 रुपए में हुआ है।
शिकायतकर्ता ने आगे बताया कि इस काम के बदले मुलजिम लाईनमैन 18-04-2024 को परमजीत सिंह की हाजिऱी में 2,500 रुपए पहले ही ले चुका है, और बाकी 9,500 रुपए परमजीत सिंह को उसके दफ़्तर खन्ना में 19.04.24 को दे दिए हैं। शिकायतकर्ता ने रिश्वत की माँग करते हुए उनकी कॉल रिकॉर्डिंग भी कर ली और उक्त शिकायत दर्ज करवा दी।
प्रवक्ता ने बताया कि इस शिकायत की पड़ताल के दौरान रिश्वत लेने संबंधी तथ्य सही पाए गए, जिस कारण मुलजिम मनजिन्दर सिंह लाईनमैन और परमजीत सिंह पूर्व सरपंच के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7, 7-ए और आई.पी.सी. की धारा 120-बी के अंतर्गत एफआईआर नंबर 21 तारीख़ 20.05.24 को विजिलेंस थाना लुधियाना रेंज में दर्ज की गई है। उक्त दोनों मुलजिमों को काबू करके 12000 रुपए की रिश्वत की रकम भी बरामद कर ली गई है। उन्होंने कहा कि इस मामले की आगे की जांच के दौरान सम्बन्धित इलाके के जूनियर इंजीनियर की भूमिका की भी जांच की जायेगी। उन्होंने बताया कि दोनों मुलजिमों को कल अदालत में पेश किया जायेगा।