Sunday , May 19 2024

स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान के लिए 80 प्रतिशत पुलिस बल और केंद्रीय बलों की 250 कंपनियाँ की जाएंगी तैनात

स्पैशल डीजीपी अर्पित शुक्ला ने अमृतसर और जालंधर में रेंज- स्तरीय सुरक्षा समीक्षा बैठकें की

– पंजाब पुलिस ने आदर्श चुनाव संहिता लागू होने से ले कर अब तक 5. 45 करोड़ रुपए की नकदी, 11. 49 लाख लीटर शराब और 99. 62 किलोग्राम नशीले पदार्थ किए बरामद

– राज्य भर में सुरक्षा बढाई; संवेदनशील जिलों में केंद्रीय बलों की 25 कंपनियाँ पहले ही तैनात: स्पैशल डीजीपी अर्पित शुक्ला

– स्पैशल डीजीपी शुक्ला ने अधिकारियों को पोलिंग बूथों पर बलों की तैनाती पर उम्मीदवारों को सुरक्षा प्रदान करने सम्बन्धित नियमों के बारे में करवाया अवगत

खबर खास, चंडीगढ़/ अमृतसर/ जालंधर :

सरहदी राज्य में आगामी लोक सभा मतदान को स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्वक ढंग से पूरा करने के उद्देश्य से और आम लोगों में विश्वास पैदा करने के साथ- साथ संवेदनशील और अति-संवेदनशील क्षेत्रों में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए 80 प्रतिशत पुलिस बल तैनात किया जा रहा है और केंद्रीय बलों की कम से कम 225 और कंपनियाँ जल्दी ही राज्य में पहुँच जाएंगी। बता दे कि राज्य में केंद्रीय बलों की 25 कंपनियाँ पहले ही तैनात की जा चुकी है। यह जानकारी आज यहाँ स्पैशल डायरैक्टर जनरल आफ पुलिस ( स्पैशल डीजीपी) ला एंड आर्डर अर्पित शुक्ला ने दी। स्पैशल डीजीपी जो कि आज अमृतसर और जालंधर के दौरे पर थे, ने आम सांसदीय मतदान- 2024 की तैयारियाँ और इस सम्बन्धित सुरक्षा प्रबंधों का जायज़ा लेने के लिए दोनों बार्डर रेंज के आईजीपी/ डीआईजी, सीपीज़ और एसएसपीज़ के साथ रेंज स्तरीय बैठके की। अमृतसर की मीटिंग में डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल आफ पुलिस ( डीआईजी) बार्डर रेंज राकेश कुमार कौंसिल और कमिश्नर आफ पुलिस (सीपी) अमृतसर गुरप्रीत सिंह भुल्लर उपस्थित थे, जबकि जालंधर रेंज की बैठक में इंस्पेक्टर जनरल आफ पुलिस (आईजीपी) एस बूपती और सीपी जालंधर स्वप्न शर्मा उपस्थित थे।

राज्य में सकारात्मक माहौल बनाने की ज़रूरत पर ज़ोर देते स्पैशल डीजीपी अर्पित शुक्ला ने सभी पुलिस अधिकारियों को पेशेवर पुलिसिंग करने और किसी को भी राज्य की शांति और सदभावना को भंग करने की इजाज़त न देने के निर्देश दिए।

उन्होंने अधिकारियों को राज्य में नशे और नाजायज शराब की आमद को रोकने के लिए राज्य में आने-जाने वाले वाहनों विशेषकर व्यापारिक वाहनों की चैकिंग तेज करने के आदेश दिए। उन्होंने सभी अधिकारियों को यह भी हिदायत की कि वह घृणित अपराधों, नशा तस्करी और लूट- छीन में शामिल दोषियों को पकड़ने के लिए विशेष प्रयास करें साथ ही मतदान से सम्बन्धित अपराधों के मामलों की जांच और मुकदमो की कार्यवाही में तेज़ी लाए।

बताने योग्य है कि पंजाब पुलिस ने आदर्श चुनाव संहिता लागू होने से ले कर अब तक 5. 45 करोड़ रुपए की नकदी, 11. 49 लाख लीटर शराब और 99. 62 किलोग्राम नशीले पदार्थ बरामद किए है।

ज़िक्रयोग्य है कि स्पैशल डीजीपी ने आम पोलिंग बूथों और संवेदनशील पोलिंग बूथों पर बलों की तैनाती सम्बन्धित नियमों के बारे में भी अधिकारियों को अवगत करवाया। उन्होंने अधिकारियों को उम्मीदवारों को सुरक्षा प्रदान करने सम्बन्धित नियमों के बारे में भी जानकारी दी।