Thursday , May 30 2024

यूपी: मैगी के साथ चावल खाना हुआ जानलेवा, 10 साल के बच्चे की मौत, 6 अस्पताल में भर्ती

पीलीभीत. भूख लगने पर सबसे जल्दी कुछ बनाकर खाने का मन करता है तो वह है मैगी! प्रचार किया गया कि मैगी सिर्फ दो मिनट में ही बन जाती है इसीलिए ये लोगों के बीच पॉपुलर हो गई. लेकिन उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में इसी मैगी की वजह से एक परिवार के छह लोग बीमार हो गए और एक दस साल के बच्चे की मौत हो गई.

बताया जा रहा है कि चावल के साथ मैगी मिलाकर खाने से 10 साल के एक बच्चे की मौत हो गई है, जबकि परिवार के 6 लोग फूड पॉइजनिंग शिकार हो गए. सभी को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. हालांकि 10 साल के बच्चे को नहीं बचाया जा सका.

मिली जानकारी के अनुसार, परिवार के सभी सदस्यों ने मैगी के साथ चावल मिक्स कर खाया था. इसके बाद सभी उल्टी और दस्त करने लगे. आनन फानन में सभी को अस्पताल ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद 6 लोग ठीक हो गए लेकिन दस साल के बच्चे की मौत हो गई.

गुरुवार की रात को परिवार मैगी के साथ चावल खाकर सोया था और रात में लोगों की हालत बिगड़ने लगी. शुक्रवार को अपस्ताल में भर्ती करवाया गया. उपचार के बाद सभी को घर भेजा गया, लेकिन अचानक एक बच्चे की तबीयत बिगड़ी और उसकी मौत हो गई. दस साल के बच्चे की मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान है और मैगी के साथ चावल खाने को लेकर लोगों में भय है. हालांकि मामले की जांच की जा रही है कि आखिर मैगी खाने के बाद परिवार के लोगों की तबीयत क्यों बिगड़ी?

क्या होते हैं फूड पॉइजनिंग के लक्षण?

इस दौरान पेट में तेज दर्द होता है. 15 से 20 मिनट के अंतराल में उल्टी होती है.दस्त होने लगते हैं. खाना खाते ही उल्टी हो जाती है, सिर में तेज दर्द होने लगता है. शरीर बहुत ज्यादा थका हुआ और कमजोर महसूस होने लगता है. बुखार भी आ जाता है. ये फूड पॉइजनिंग के कुछ लक्षण हैं.