Thursday , May 30 2024

सीईओ ने सभी जिलों के डीसी, कमिशनरों और एसएसपी को सभी उम्मीदवारों के लिए एकसामन माहौल यकीनी बनाने की दी हिदायत

उम्मीदवारों की सुरक्षा को यकीनी बनाना चुनाव विभाग की मुख्य ज़िम्मेदारी
किसान यूनियनों को चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की प्रचार मुहिमों में विघ्न न डालने की अपील
खबर खास, चंडीगढ़ :
लोक सभा मतदान 2024 के मद्देनज़र राज्य में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव प्रक्रिया को पूरा करने के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी सिबिन सी ने आज सभी डिप्टी कमिशनरों-कम-ज़िला निर्वाचन अधिकारियों, पुलिस कमिशनरों और सीनियर पुलिस कप्तानों (ऐसऐसपीज़) को उम्मीदवारों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये सभी के लिए एकसमान माहौल यकीनी बनाने के लिए कहा है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने ज़ोर देकर कहा कि उम्मीदवारों की सुरक्षा को यकीनी बनाना ज़िला चुनाव विभाग की प्राथमिक ज़िम्मेदारी है और भारत निर्वाचन आयोग इस मामले प्रति पूरी तरह गंभीर है।
सभी सबंधित अधिकारियों को जारी एक पत्र में मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा है कि उनके ध्यान में आया है कि राज्य के अलग-अलग हिस्सों से चुनाव प्रचार में विघ्न डालने की कई घटनाएँ सामने आईं हैं। उन्होंने बताया कि यह घटनाएँ अलग-अलग शिकायतों और मीडिया रिपोर्टों के द्वारा सामने आईं हैं, जिसमें आंदोलनकारी किसानों द्वारा राजनैतिक पार्टियों के उम्मीदवारों को चुनाव प्रचार करने से रोका जा रहा है जिस कारण वह राज्य के नागरिकों को अपने चुनाव घोषणा-पत्र से अवगत नहीं करवा पा रहें। उन्होंने कहा कि ऐसी कार्यवाहियां भारत निर्वाचन आयोग की हिदायतों और दिशा-निर्देशों का उल्लंघन हैं।
सिबिन सी ने आगे कहा कि यह भी देखा गया है कि सी. आर. पी. सी. की धारा 144 के अंतर्गत ज़िला मैजिस्ट्रेट की तरफ से जारी हुक्मों के बावजूद प्रदर्शनकारी किसानों द्वारा बिना इजाज़त के सभाएं करने के इलावा लाउड स्पीकरों का प्रयोग भी किया जा रहा है।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी हिदायतों का हवाला देते हुये कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण है कि उम्मीदवारों की सुरक्षा को यकीनी बनाते हुये इन दिशा-निर्देशों की यथावत पालना की जाये जिससे उम्मीदवारों को चुनाव प्रचार के लिए एकसमान माहौल प्रदान किया जा सके। सिबिन सी ने दोहराया कि जिलों में तैनात समूह चुनाव मशीनरी का फर्ज है कि वह इन दिशा-निर्देशों की सख़्ती से पालना को यकीनी बनाएं। उन्होंने कहा कि किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने की इजाज़त नहीं दी जायेगी।
सिबिन सी ने सभी अधिकारियों को हिदायत की कि वह इन निर्देशों को सही अर्थों में लागू करना यकीनी बनाएं और यदि चुनाव प्रचार में विघ्न डालने की कोई घटना सामने आती है तो उसे गंभीरता के साथ लेते हुये भारत निर्वाचन आयोग के ध्यान में लाया जाये।
बताने योग्य है कि आज किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल द्वारा पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के साथ उनके दफ़्तर में मुलाकात की गई है। मीटिंग के दौरान सिबिन सी ने किसान जत्थेबंदियों को अमन- कानून की स्थिति बनाई रखने और राज्य भर में चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की चुनाव मुहिमों में विघ्न न डालने की अपील की है।