Thursday , May 30 2024

चंडीगढ़ : उद्योगों के लिए लाभदायक है सौलर सिस्टम:बलदेव सिंह सरां

पीएचडीसीसीआई ने किया उद्यमियों के लिए सत्र का आयोजन

खबर खास, चंडीगढ़ :

पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड (पीएसपीसीएल) के चेयरमैन कम एमडी बलदेव सिंह सरां ने कहा है कि पंजाब सरकार उद्योगों की बिजली संबंधी समस्याओं का समाधान करने के लिए वचनबद्ध है। बिजली की खप्त को देखते हुए उद्योगों के लिए भी सौ ऊर्जा आधारित योजनाएं तैयार की जा रही हैं।
सरां पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री के पंजाब चैप्टर की क्षेत्रीय बिजली और नवीकरणीय ऊर्जा समिति द्वारा आयोजित कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। पंजाब में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने में पीएसपीसीएल की भूमिका पर आयोजित कार्यशाला में आए हुए अतिथियों का स्वागत करते हुए पीएचडीसीसीआई पंजाब चेप्टर के चेयर आर.एस. सचदेवा ने जलवायु परिवर्तन के समाधान के रूप में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के महत्व को बताया। उन्होंने सौर ऊर्जा की परिवर्तनकारी शक्ति पर भी जोर दिया जो आर्थिक विकास को गति देती है और साथ ही युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा करती है। पंजाब चेप्टर के को-चेयर संजीव सेठी ने पंजाब में सौर उद्योग के सामने आने वाली कुछ समस्याओं के बारे में भी बताया। जिसमें मुख्य रूप से मंजूरी में देरी, मीटर की भारी लागत और नेट-मीटरिंग की लंबी प्रक्रिया का सामना करना पड़ रहा है।
उद्योगपतियों की समस्याएं सुनने के बाद बलदेव सिंह सरां ने कहा कि बताया कि पंजाब की बेहतरी के लिए उद्योग और पीएसपीसीएल कैसे सहयोग कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि रूफटॉप सोलर की स्थापना एक हरित क्षेत्र है जिससे पंजाब के उद्योगों को और मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि पंजाब से अविश्वास को खत्म करने के लिए एक संयुक्त प्रयास की आवश्यकता है।सत्र में सौर ऊर्जा संवर्धन, कार्यान्वयन और अपनाने के उचित ज्ञान वाले उप-विभागीय अधिकारियों की आवश्यकता, पंजाब में बिना किसी प्रसंस्करण शुल्क के 10 किलोवाट तक के सौर प्रतिष्ठानों की मंजूरी की आवश्यकता है। सत्र का समापन करते हुए पर्व अरोड़ा, संयोजक, क्षेत्रीय विद्युत एवं नवीकरणीय ऊर्जा समिति, पीएचडीसीसीआई ने पंजाब में सौर उद्योग को बढ़ावा देने के लिए पीएचडीसीसीआई के अटूट समर्पण को दोहराया।
आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए पीएचडीसीसीआई की क्षेत्रीय निदेशक सुश्री भारती सूद ने पंजाब को सौर अग्रणी राज्य के रूप में बढ़ावा देने के लिए सरकार और सौर उद्योग के बीच सहयोग की महत्वपूर्ण भूमिका पर प्रकाश डाला।