Thursday , May 30 2024

पंजाब के फिरोजपुर में श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के आरोप में एक आरोपी को पीट-पीट कर मार डाला

फिरोजपुर के मल्लांवाल खास कस्बे के बंडाला में हुई वारदात
खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब के फिरोजपुर में बीते रोज श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के आरोप में एक शख्श को लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला। यह वारदात मल्लांवाल खास कस्बे के बंडाला गांव की बताई जा रही है। इस का लाइव वीडियो सामने आया है जिसमें कुछ लोग आरोपी पर हमला कर रहे हैं जबकि एक व्यक्ति आरोपी पर लगातार तलवार से हमला करता दिख रहा है। इस हादसे में उक्त शख्स की मौत हो गई। घटना का पता चलते ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और इस हादसे के बाद पूरे क्षेत्र में तनाव का माहौल है।
पुलिस के मुताबिक शनिवार दोपहर तीन बजे के करीब लोगों को पता चला कि गांव के एक युवक ने गांव के गुरुद्वार साहिब में बेदअबी की है। आरोपी ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब के पावन स्वरूप के अंग फाड़ डाले जिसके बाद वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई। भीड् ने पहले युवक को बांध कर रखा और पुलिस को सूचित किया और उसके बाद उसकी खूब पिटाई की। लेकिन जब पुलिस मौके पर पहुंची तो भीड़ बेकाबू हो गई और आरोपी पर हमला कर दिया। लोगों ने पहले उसे हमला किया और बाद में उसे तलवार से काट दिया। मृतक गांव टल्लीगुलाम का रहने वाला बख्शीश सिंह था जो मजहबी सिख बताया जा रहा है।
पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि युवक ने गुरुद्वारे के अंदर आकर बेअदबी की। यह देख वहां श्रद्धालुओं ने युवक को पकड़ लिया। वह उसे बाहर ले गए, जहां सबको बताया गया कि इस युवक ने बेअदबी की है। तब वहां भीड़ जमा हुई और आरोपी को बांध लिया। इसके बाद पुलिस के सामने पूरी घटना को अंजाम दिया गया।
मौके पर पहुंचे फिरोजपुर पुलिस के डीएसपी बलबीर सिंह के मुताबिक, आरिफ थाने के अंतर्गत बाबा दीप सिंह जी के गुरुद्वारे में बेअदबी की घटना हुई। इसका पता चलते ही पुलिस वहां पहुंची। वहां जाकर पता चला कि लोगों ने बेअदबी करने वालों को पकड़ा हुआ है। उसके साथ मारपीट की गई है। इससे वह जख्मी है। तब आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर अस्पताल भेज दिया गया। इसके बाद वहां से सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर जब्त कर लिया।
वहीं, मृतक के परिजनों ने हमलावरों पर कार्रवाई की मांग की है। मृतक के रिश्तेदारों ने बताया कि बख्शीश दो बहनों का इकलौता बड़ा भाई था। वह मानसिक रूप से बीमार रहता था। मेहनत-मजदूरी करता था। उन्होंने कहा कि अगर उसने अपराध किया था तो उसे कानून से सजा मिलनी चाहिए थी। युवक की मौत के बाद रोष जताते हुए परिजनों ने आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है