Thursday , May 30 2024

प्रताप बाजवा भाजपा के एजेंट, हरपाल चीमा की कांग्रेस कार्यकर्ताओं को चेतावनी

कहा, बाजवा हाउस में कांग्रेस और भाजपा के बीच मात्र एक दर्जन सीढ़ियों का है फासला, पंजाब कांग्रेस के नेताओं ने लोगों का विश्वास और सम्मान खो दिया है, वह केजरीवाल के नाम पर कुछ वोट पाने की कोशिश कर रहे हैं:  चीमा
खबर खास, चंडीगढ़ :
आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब ने कांग्रेस नेता प्रताप सिंह बाजवा पर पलटवार किया है और कहा कि वह पंजाब के लोगों को गुमराह कर रहे हैं। पार्टी कार्यालय से जारी एक बयान में आप नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि किसे वोट देना है, इस बारे में प्रताप सिंह बाजवा की ओर से कोई भी सलाह हास्यास्पद है क्योंकि बाजवा के घर में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच सिर्फ एक दर्जन सीढ़ियों का ही अंतर है। हरपाल सिंह चीमा का इशारा प्रताप सिंह बाजवा के भाई फतेहजंग सिंह बाजवा की ओर था जो भाजपा नेता हैं।
चीमा ने पंजाब कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और नेताओं को चेतावनी देते हुए कहा कि प्रताप सिंह बाजवा भाजपा एजेंट हैं, जो कांग्रेस में भाजपा का काम कर रहे हैं और पार्टी को कमजोर कर रहे हैं। चीमा ने कहा कि आज प्रताप बाजवा अरविंद केजरीवाल के नाम पर वोट मांग रहे हैं, लेकिन केजरीवाल हमेशा कहते थे कि प्रताप बाजवा भाजपा के एजेंट हैं। चीमा ने कहा कि पंजाब कांग्रेस के नेता पंजाब में अपनी हार से घबरा गए हैं इसलिए वह ऐसे बयान दे रहे हैं। वह अच्छी तरह से जानते हैं कि पंजाब के लोग केवल ‘झाड़ू’ को वोट देने वाले हैं, इसलिए वह इस तरह के आधारहीन बयानों से लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।
हरपाल चीमा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल तानाशाही और भाजपा के खिलाफ लड़ रहे हैं। वह झूठे मामले में जेल में हैं क्योंकि भाजपा और नरेंद्र मोदी उनसे डरते हैं। दूसरी ओर प्रताप सिंह बाजवा हैं जो अपनी ही पार्टी को धोखा दे रहे हैं और पार्टी को कमजोर करने के लिए कांग्रेस नेताओं के खिलाफ साजिश रचते रहते हैं। हरपाल चीमा ने कहा कि पंजाब की जनता ने कांग्रेस को नकार दिया है। उन्हें पंजाब के कांग्रेस नेताओं पर भरोसा नहीं है। अपने बयान से प्रताप बाजवा सिर्फ लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि वह खुद जानते हैं कि पंजाब की जनता एक बार फिर स्वार्थी कांग्रेस नेताओं को हराने के लिए तैयार है।
चीमा ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि आधा कांग्रेस पहले से ही भाजपा में है। उनके पूर्व पंजाब अध्यक्ष सुनील जाखड़ अब भाजपा के पंजाब अध्यक्ष हैं। उनके पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भाजपा में हैं। उनकी पत्नी और पूर्व सांसद परनीत कौर भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं। उनके सांसद रवनीत बिट्टू भारतीय जनता पार्टी की तरफ से लुधियाना लोकसभा से चुनाव लड़ रहे हैं।
चीमा ने आप पंजाब में किसी भी नेतृत्व संकट की संभावना से इनकार किया और कहा कि हम आम लोगों की पार्टी हैं। हमारे विधायक और मंत्री जमीन पर काम कर रहे हैं। हमारे मुख्यमंत्री पंजाब, हरियाणा, गुजरात और असम में चुनाव प्रचार कर रहे हैं। उन्हें हर जगह लोगों की जबरदस्त प्रतिक्रिया मिल रही है।
चीमा ने आम आदमी पार्टी के समर्थकों और लोगों से अपील की कि वे ऐसे किसी भी गलत बयानबाजी में न पड़ें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को बीजेपी के इस एजेंट को अपनी पार्टी से निकाल देना चाहिए। हरपाल चीमा ने कहा कि पंजाब कांग्रेस के नेताओं के ऐसे बयानों का ही कारण है कि उनकी पार्टी में कभी भी सामंजस्य नहीं रहा जिससे कारण उन्होंने लोगों का विश्वास खो दिया है।