Thursday , May 30 2024

पंजाब पुलिस के एडीजीपी ने ली वीआरएस, स्वास्थ्य कारणों को बताया कारण; कहा, खुद को कर रहे हैं पिंजरे से आजाद महसूस

खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब पुलिस के वरिष्ठ आईपीएस एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर गुरिंदर सिंह ढिल्लो ने नौकरी छोड़ दी है। लगभग 30 साल की नौकरी के बाद उन्होंने वीआरएस लेने की पुष्टि की है। उन्हेांने कहा कि वह अब खुद को पिंजरे से आजार महसूस कर रहे हैं।
1997 बैच के आईपीएस अधिकारी ढिल्लों को लेकर चर्चाएं थी कि वह किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल होकर लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं। लेकिन उन्होंने राजनीति को लेकर कहा कि यह फैसला उनका परिवार करेगा।
दरअसल गुरिंदर ढिल्लों की ओर से वीआरएस लेने के लिए जो फाइल सरकार को भेजी थी, उसमें उन्होंने अपनी सेहत ठीक न होने का हवाला दिया। वह इसी साल मई में रिटायर होने वाले थे और इससे पहले ही उन्होंने वीआरएस ले ली है। उन्होंने कहा कि उन्होंने 30 साल की सर्विस पूरी की है और उनकी उम्र 58 वर्ष हो गई है। उन्होंने कहा कि उनका कार्यकाल बेहद शानदार रहा और उन्होंने आतंकवाद की लड़ाई लड़ी है और अपने दायरे में रहकर जो देश के लिए कर सकते हैं, वह उन्होंने किया। उन्होंने इसका आभार जताते हुए कहा कि वह अब आजाद महसूस कर रहे हैं और पता नहीं किस्मत कहां ले जाती है।
ढिल्लों ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान जो तुजुर्बा हासिल किया है वह उसे अपने और किसी दूसरे प्रयोग में करेंगे। राजनीति को लेकर उन्होंने कहा कि यह काफी मुश्किल सवाल है। यदि उनका परिवार उन्हें इसके लिए अनुमति देता है या नहीं, उसी पर सब निर्भर होगा।
इससे पहले आईएएस अधिकारी परमपाल कौर ने भी वीआरएस ली थी और उसके बाद वह भाजपा में शामिल हो गईं और उन्हें बठिंडा से उम्मीदवार भी बनाया गया है।