Thursday , May 30 2024

Surya Tilak: रामलला का हुआ सूर्य तिलक, मस्तक पर चमकती रही सूरज की रोशनी

अयोध्याः रामनवमी के खास मौके पर अयोध्या के राम मंदिर में उस वक्त अद्भूत नजारा देखने को मिला, जब प्रभु श्री राम के ललाट पर सूर्य तिलक किया गया. यह अलौकिक नजारा भक्ति से भावविभोर कर देने वाला था. जैसे ही प्रभु श्री राम का सूर्य तिलक हुआ. पूरा मंदिर परिसर श्रीराम के नारे के उद्घोष से गूंज उठा. रामनवमी के दिन रामलला की विशेष पूजा की गई. वहीं अयोध्या में भक्तों का जनसैलाब आया हुआ है. ठीक दोपहर 12 बजे रामलला का सूर्य तिलक हुआ. सूर्य तिलक होने के बाद भगवान श्री राम की विशेष पूजा की गईं और आरती उतारी गई.

रामलला का बहुप्रतीक्षित 'सूर्य अभिषेक' दोपहर 12:3 से शुरू हुआ. इस दौरान सूर्य की किरणें रामलला के माथे पर 75 मिमी का 'तिलक' बनाती नजर आईं. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अनुसार, केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान (CBRI), रूड़की के वैज्ञानिकों ने सूर्य की गति के आधार पर समय की गणना की है.

ट्रस्ट ने कहा कि रामलला का 'सूर्य अभिषेक' हाई क्वालिटी वाले दर्पण और लेंस के साथ एक ऑप्टोमैकेनिकल सिस्टम का यूज करके किया गया है. ट्रस्ट ने बताया कि सूर्य की किरणें सबसे पहले मंदिर की सबसे ऊपरी मंजिल पर लगे एक दर्पण पर पड़ीं, फिर तीन लेंसों की मदद से, उन्हें मंदिर के गर्भगृह तक पहुंचने से पहले मंदिर की दूसरी मंजिल पर लगे दूसरे दर्पण की ओर डायरेक्ट किया गया, जिससे ये रामलला के मस्तक तक पहुंची.