Thursday , May 30 2024

हरियाणा : नाराज पूर्व मंत्री अनिल विज ने ट्वीटर बायो से मोदी का परिवार टैगलाइन हटाया, यह दी सफाई

चंडीगढ़. हरियाणा कैबिनेट से हटाए जाने के बाद पूर्व मंत्री अनिल विज काफी नाराज नजर आ रहे हैं. बीजेपी नेताओं से नाराज पूर्व मंत्री अनिल विज ने अपने ट्वीटर बायो से मोदी का परिवार टैगलाइन हटा दिया है. मोदी का परिवार टैगलाइन हटाए जाने के बाद सोशल मीडिया पर आलोचना शुरू होते ही पूर्व मंत्री ने इसको लेकर एक लंबा-चौड़ा कारण पोस्ट किया है.

दरअसल, मोदी का परिवार टैगलाइन हटाए जाने पर पूर्व मंत्री अनिल विज पर बीजेपी समर्थक आदि खूब जोरदार हमला बोल रहे हैं. विज को हाल में मंत्रिमंडल से हटा दिया गया था. मनोहर लाल खट्टर को मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने के बाद नायब सैनी को नेता चुने जाने के बाद सीएम पद की शपथ दिलाई गई. सैनी को नए मंत्रिमंडल तक में जगह नहीं मिली जबकि उनको मुख्यमंत्री पद की उम्मीद थी. आलम यह कि नाराज विज, सैनी के शपथ समारोह में भी शामिल नहीं हुए. अनिल विज छह बार से बीजेपी के विधायक हैं. लेकिन पहले ही पहली बार विधायक बने खट्टर को सीएम बना दिया गया अब नायब सैनी को पद दिया गया.

हालांकि, खट्टर सरकार में अनिल विज ने एक सख्त, रिजल्ट ओरिएंटेड मिनिस्टर की प्रतिष्ठा बनाई थी. वह लोगों की शिकायतों के त्वरित समाधान की वजह से राज्य में काफी लोकप्रिय भी रहे हैं.

खुद को बताया बीजेपी का भक्त

लेकिन इस बार मंत्रिपरिषद में जगह नहीं मिलने से नाराज विज ने मोदी का परिवार टैगलाइन हटाया तो उनकी आलोचनाओं की बाढ़ सी आ गई. जैसे ही आलोचना और अटकलों की लहरें बढ़ीं उन्होंने सबका मुंह बंद करते हुए खुद को भाजपा का भक्त घोषित कर दिया. मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि स्थितियां बदल सकती हैं लेकिन मैं पार्टी के लिए काम करना जारी रखूंगा.

सोशल मीडिया पर दी सफाई

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्वीटर पर अनिल विज ने उन पर निशाना साधने वालों पर बेईमानी करने का आरोप लगाया. विज ने सुझाव दिया कि उन्हें सार्वजनिक हमला करने से पहले उन्हें मामले को स्पष्ट करने की अनुमति देनी चाहिए थी. विज ने अपने हिंदी पोस्ट में कहा कि हर कोई जानता है कि मैं अब एक्स बन गया हूं और मुझे हर जगह एक्स लिखना चाहिए, लेकिन जब मैंने अपनी प्रोफ़ाइल में एक्स पर एक्स लिखना शुरू किया तो नाम में लिखे जाने वाले अक्षरों की संख्या निर्धारित संख्या से अधिक हो गई, इसलिए (मोदी का परिवार), जो कि मैं हूं, को ऊपर से हटाना पड़ा और नीचे रखना पड़ा, जो कुछ लोगों को बेईमानी से खेलने का मौका दिया. उन्होंने कहा, कृपया इसे अभी ठीक करें. मैं बीजेपी का कट्टर भक्त हूं. अगर आपने इस पर खेलने से पहले मुझसे बात की होती तो आपको स्पष्टीकरण सुनने का मौका मिलता और ऐसा नहीं होता.