Wednesday , April 24 2024

केंद्र सरकार ने पंजाब की 110 महिलाओं को दी ड्रोन चलाने की ट्रेनिंग

एक महिला पर करीब 17 लाख रुपये खर्च कर रही है केंद्र सरकार: चीमा

खबर खास, चंडीगढ़ :

भाजपा पंजाब के प्रदेश उपाध्यक्ष बिक्रमजीत सिंह चीमा ने केंद्र सरकार की ओर से महिला सशक्तिकरण योजना के तहत पंजाब की 110 महिलाओं जिन्हें ड्रोन तथा उन्हें चलाने का प्रशिक्षण दिया गया है, उन लाभार्थी महिलाओं से मुलाकात की और उन्हें प्राप्त प्रशिक्षण के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी हासिल की।

चीमा ने इस संबंध में जारी अपनी प्रेस विज्ञप्ति में प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी व उनके नेतृत्व वाली केंद्र की बीजेपी सरकार का आभार जताते हुए कहा कि मोदी सरकार का लक्ष्य महिला सशक्तिकरण व किसानों का जीवन स्तर ऊँचा उठाना व उन्हें विश्व-स्तरीय टैक्नोलोजी से लैस कर वैश्विक प्रतिस्पर्धा के लिए तैयार कर उनकी आर्थिक तरक्की करना है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के इस सराहनीय प्रयास से महिलाओं को इस बात की बेहद खुशी है कि जो महिलाएं पहले घर से बाहर नहीं निकलती थीं, वे आज ड्रोन पायलट दीदी के नाम से जानी जाएंगी। महिलाओं ने प्रधानमंत्री और उनकी केंद्र सरकार का आभार जताते हुए कहा कि केंद्र सरकार के इस कदम से अब महिलाएं समाज में सिर उठाकर जी सकती हैं और आत्मनिर्भर बन रही हैं। उन्होंने कहा कि 26 जनवरी को पंजाब की ड्रोन पायलट दीदियों को मोदी सरकार द्धारा ड्रोन किट व अन्य सामान दिया जाएगा।

चीमा ने कहा कि बहुत जल्द अब  पंजाब के सभी जिलों में  खेतों में महिलाएं ड्रोन उड़ाती दिखाई देंगी। यह महिलाएं ड्रोन दीदी के नाम से जानी जाएंगी और यह ड्रोन के माध्यम से खेतों में नैनो यूरिया व नैनो डीएपी का छिड़काव करेंगी। इफको (इंडियन फार्मर फर्टीलाइन कोऑप्रेंटिव) के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी द्वारा महिला किसानों को ड्रोन तथा उन्हें चलाने का 15 दिन का प्रशिक्षण दिया है। इसके तहत पंजाब के विभिन्न जिलों की 110 महिलाओं को ड्रोन किट तथा उसे चलाने की ट्रेनिंग देकर ड्रोन पायलट बनाया गया है। केंद्र सरकार द्वारा इन महिलाओं को करीब 12 लाख रुपए कीमत का ड्रोन यूनिट व उसे खेतों तक ले जाने व लाने के लिए करीब पांच लाख रुपए का इलैक्ट्रिक वाहन इफ्को द्वारा दिया जाएगा और यह महिलाएं अपने खेतों में तथा अन्य किसानों के खेतों में पैसे लेकर छिड़काव किया करेंगी। इन ड्रोन के माध्यम से एक दिन में करीब 20 से 25 एकड़ में छिड़काव किया जा सकता है।

बिक्रमजीत सिंह चीमा ने कहा कि अन्य किसान अपने खेतों मे छिड़काव के लिए इफको द्वारा निर्मित किसान एप के माध्यम से अपनी मांग भेजेंगे, जिसके बाद उसके इलाके में सबसे करीबी ड्रोन पायलट दीदी को यह संदेश प्रसारित कर दिया जाएगा और वह ड्रोन पायलट दीदी उस किसान से संपर्क कर शुल्क लेकर उसके खेतों में किसान की इच्छानुसार छिड़काव कर देगी।

The post केंद्र सरकार ने पंजाब की 110 महिलाओं को दी ड्रोन चलाने की ट्रेनिंग first appeared on Khabar Khaas.