Monday , April 15 2024

नेत्रहीन दिव्यांगजनों के अटैंडैंट्स को सरकारी बसों में किराये से मिलेगी छूट: डॉ. बलजीत कौर

दिव्यांगजनों के लिए सरकारी नौकरियों की परीक्षा फीस जल्द होगी माफ, कैबिनेट मंत्री ने आंगनबाड़ी सुपरवाईजर, क्लर्कों और स्टेनो टाईपिस्टों को नियुक्ति पत्र सौंपे; अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस सम्बन्धी मोहाली में राज्य स्तरीय समागम
अनुसूचित जातियों भूमि और वित्त निगम द्वारा अनुसूचित जातियों के 82 लाभार्थियों को 1.66 करोड़ रुपए के कर्जे बाँटे, बैकफिंको की तरफ से पिछड़ी श्रेणियों के 17 लाभार्थियों को 32.45 लाख रुपए के कर्जों के सेंक्शन पत्र सौंपे
खबर खास, चंडीगढ़/साहिबज़ादा अजीत सिंह नगर :
मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार की तरफ से राज्य के हर वर्ग के विकास के लिए दिन-रात एक कर काम किया जा रहा है। इसके अंतर्गत नेत्रहीन दिव्यांगजनों के अटैंडैंट्स को सरकारी बसों में किराये सम्बन्धी छूट और दिव्यांगजनों के लिए सरकारी नौकरियों के इम्तिहानों सम्बन्धी फीस सम्बन्धी छूट जल्दी लागू की जायेगी।
यह एलान सामाजिक सुरक्षा और महिला एवं बाल विकास मंत्री डॉ. बलजीत कौर ने आज सैक्टर 67 स्थित संस्था नाईपर में सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग की तरफ से अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस सम्बन्धित करवाए राज्य स्तरीय समागम के दौरान बतौर मुख्य मेहमान संबोधित करते हुए किया।इस मौके पर कैबिनेट मंत्री ने सामाजिक सुरक्षा, महिला और बाल विकास विभाग में नव-नियुक्त 09 सुपरवाइजऱ और 09 क्लर्कों और सामाजिक न्याय, अधिकारिता और अल्पसंख्यक विभाग में 14 स्टैनोज़ को नियुक्ति पत्र भी सौंपे। इसके साथ ही कैबिनेट मंत्री ने पंजाब अनुसूचित जातियों, भूमि और वित्त निगम की तरफ से अनुसूचित जातियों के 82 लाभार्थियों को 1.66 करोड़ रुपए के कर्जे और बैकफिंको की तरफ से पिछड़ी श्रेणियों के 17 लाभार्थियों को 32.45 लाख रुपए के कर्जे भी बाँटे। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि पुरातन समय में औरतों के साथ बहुत बुरा सलूक किया जाता था और उसके दृश्य आज भी दिखाई देते हैं। अपने आप को प्राथमिकता न देने के कारण आज भी शरीर में ख़ून की कमी के जो केस आते हैं, उनमें औरतों की बहुसंख्या होती है। औरत सदा सब्र और सहजता के साथ ही संघर्ष करती रही है। इतिहास में माई भागो और रानी लक्ष्मी बाई जैसी औरतों ने अपनी अलग जगह बनाई है, जिनसे मार्गदर्शन लेने की ज़रूरत है।
विभाग का लक्ष्य है कि सरकारी नौकरियों के नियुक्ति पत्रों के स्वरूप औरतें मज़बूत होंगी और आगे वह समाज को और मज़बूत करेंगी। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि आंगनबाड़ी वर्करों की माँगों की पूर्ति हेतु भी प्रक्रिया जारी है।
डॉ. बलजीत कौर ने कहा कि औरत के पास सबसे बड़ी ताकत शिक्षा है और आने वाली बच्चियों को शिक्षा से किसी भी हाल में वंचित नहीं रखा जाना चाहिए। उन्होंने लोगों से अपील की कि माता-पिता अपनी बच्चियों को अधिक से अधिक पढ़ाएं। जारी किये कर्जो संबंधी कैबिनेट मंत्री ने बताया कि एस.सी. और बी.सी कार्पोरेशन द्वारा जरूरतमंद व्यक्तियों को कर्जे देकर अनुसूचित जातियों और पिछड़ी श्रेणियों के आर्थिक सशक्तिकरण को प्रोत्साहित किया जाता है।
पंजाब सरकार द्वारा यह कर्जे बहुत ही कम ब्याज दरों पर उपलब्ध करवाए जाते हैं। इन कर्जो का उद्देश्य हाशियाग्रस्त भाईचारों के व्यक्तियों को शक्ति प्रदान करना है। उनको अपने कारोबार स्थापित करने के योग्य बनाना है, जिससे उनका जीवन स्तर ऊँचा उठाया जा सके।
समागम के दौरान गर्भवती औरतों की गोद-भराई की रस्म अदा की गई। इसके साथ ही 40 नवजात बच्चियों और उनकी माताओं का सम्मान भी किया गया। इसके अलावा समाज में बेहतरीन कारगुज़ारी वाली औरतों का भी सम्मान किया गया, जिनमें श्रीमती योगिता वर्मा, डॉ. नवप्रीत कौर, सिमरप्रीत कौर, हरिन्दर कौर, दीप्ति और रमजोत कौर शामिल थीं। इस मौके पर ज्योति स्रूप कन्या आसरा ट्रस्ट की बच्चियों की तरफ से गिद्दे की पेशकारी की गई, जिसकी दर्शकों की तरफ से सराहना की गई।
इस मौके पर अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (शहरी विकास) दमनजीत सिंह मान, संयुक्त सचिव महिला और बाल विकास विभाग आनन्द सागर शर्मा, डिप्टी डायरैक्टर सुखदीप सिंह और रुपिन्दर कौर, जि़ला प्रोग्राम अफ़सर गगनदीप सिंह, जि़ला सामाजिक न्याय और अधिकारिता अफ़सर अशीष कथूरिया समेत अलग-अलग विभागों के अधिकारी और आदरणीय-गण उपस्थित थे।

The post नेत्रहीन दिव्यांगजनों के अटैंडैंट्स को सरकारी बसों में किराये से मिलेगी छूट: डॉ. बलजीत कौर first appeared on Khabar Khaas.