Monday , April 15 2024

किसान आंदोलन: शुभकरण मामले में पटियाला पुलिस ने दर्ज किया हत्या का मामला, दिल्ली कूच को लेकर फैसला आज

खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब में किसान आंदोलन के सात दिन बुधवार को बठिंडा के शुभकरण मौत मामले में अहम खुलासा हुआ है। जानकारी मिली है कि पटियाला पुलिस ने बीती देर रात 10.45 बजे शुभकरण के गोली लगने से हुई मौत मामले में हत्या की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया है। अब दिल्ली कूच को लेकर किसान संगठनों का फैसला कभी भी सामने आ सकता है।

पटियाला के पातड़ां पुलिस थाने में शुभकरण के पिता चरणजीत सिंह के बयानों पर अज्ञात पर आईपीसी की धारा 302 और 114 के तहत मामला दर्ज किया गया है। इसके बाद पटियाला के रजिंदरा अस्पताल में रात 10.30 बजे शुभकरण का पोस्टमार्टम डाक्टरों की पांच सदस्यीय बोर्ड ने किया जो देर रात तक जारी था। इसकी बकायदा वीडियोग्राफी भी करवाई गई। किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल ने कहा कि सुबह शुभकरण का शव खनौरी बार्डर पर ले जाया जाएगा।

गौर रहे कि काफी दिनों से किसान संगठन राज्य सरकार से शुभकरण की मौत मामले में मांग कर रहे थे कि वह शव का पोस्टमार्टम तभी करवाएंगे जब गोली मारने वाले आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज होगा। हालांकि पंजाब सरकार ने इस मामले में पहले किसानों की मांग कि शुभकरण के परिवार को आर्थिक मदद और बहन को सरकारी नौकरी जैसी मांगों को पूरा कर दिया था। इसके अलावा किसान संगठनों ने पंजाब सरकार से मांग की थी कि जब तक पंजाब पुलिस शुभकरण सिंह के मामले में इंसाफ नहीं देती तब तक शुभकरण का पोस्टमार्टम नहीं होगा। 21 वर्षीय शुभकरण बठिंडा का रहने वाला एक किसान था और कर्जे तले दबा था। अपनी कर्ज माफी को लेकर वह प्रदर्शन में शामिल होने आया था और इसी दौरान खनौरी बार्डर पर गोली लगने से उसकी मौत हो गई।
किसान नेता सरवन सिंह पंधेर ने मांग की थी कि हरियाणा पुलिस और उसके वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ बनती कानूनी कार्रवाई की जाए क्योंकि उनकी बंदूक से निकली गोली के कारण ही शुभकरण की मौत हुई है। इसलिए सीधे तौर पर शुभकरण की हत्या के पीछे हरियाणा पुलिस के आला अधिकारियों का हाथ है। अब जबकि पंजाब पुलिस ने धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया है तो किसान संगठन की अगली रणनीति क्या होगी, इसका खुलासा आज होने वाली संयुक्त बैठक के बाद लिया जाएगा।
दिल्ली कूच को लेकर किसान मजदूर मोर्चा के कोऑर्डिनेटर सरवण पंधेर और संयुक्त किसान मोर्चा के जगजीत सिंह डल्लेवाल के नेतृत्व में बीती देर शाम बैठक हुई थी। क्योंकि खनौरी सीमा पर 21 फरवरी को शुभकरण की मौत के बाद किसानों ने दिल्ली कूच का फैसला 29 फरवरी तक टाल दिया था। जिसके बाद हरियाणा-दिल्ली के टीकरी और सिंधु सीमा को अस्थाई तौर पर खोल दिया गया।

 

The post किसान आंदोलन: शुभकरण मामले में पटियाला पुलिस ने दर्ज किया हत्या का मामला, दिल्ली कूच को लेकर फैसला आज first appeared on Khabar Khaas.