Monday , April 15 2024

मुख्यमंत्री ने किया श्री गुरु रविदास  का 650वां प्रकाश उत्सव व्यापक स्तर पर मनाने का ऐलान

खुरालगढ़ में नयी बनी श्री गुरु रविदास यादगार मानवता को समर्पित
समाज के कमज़ोर और दबे-कुचले वर्गों की दुख-तकलीफ़े दूर करने के लिए और भी लगन के साथ काम करने का संकल्प
श्री गुरु रविदास जी के प्रकाश उत्सव के मौके पर मुख्यमंत्री ने राज्य स्तरीय समागम में की शिरक्त
खबर खास, खुरालगढ़ (होशियारपुर) :
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने आज ऐलान किया कि राज्य सरकार श्री गुरु रविदास जी का 650वां प्रकाश उत्सव यादगारी के मौके तौर पर व्यापक स्तर पर मनाएगी।
आज यहाँ श्री गुरु रविदास जी के 650वें प्रकाश उत्सव के मौके पर श्री गुरु रविदास जी यादगार मानवता को समर्पित करने के बाद राज्य स्तरीय समागम को संबोधन करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने अफसरों को पहले ही आदेश दे दिए हैं कि इस समागम को यादगारी बनाने के लिए उचित योजना यकीनी बनाई जाये। उन्होंने कहा कि गुरू रविदास जी के 650वें प्रकाश उत्सव को बड़े स्तर पर मनाने के लिए संगत के सलाह-मश्वरे के साथ खुरालगढ़ के आसपास समूचे इलाके को व्यापक स्तर पर विकसित किया जायेगा। भगवंत सिंह मान ने कहा कि यह यादगारी मौका होगा और राज्य सरकार इस उत्सव की सफलता बनाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री गुरु रविदास जी यादगार लगभग 143 करोड़ रुपए की लागत के साथ बनी है और यह राज्य सरकार की तरफ से श्री गुरु रविदास जी प्रति श्रद्धा और सम्मान का विनम्र सा प्रयास है। उन्होंने कहा कि यह यादगार सैलानियों के लिए सहूलतों वाली इमारत, मल्टी स्तर पार्किंग, मीनार-ए- बेगमपुरा, संगत हाल, अत्याधुनिक ऑडीटोरियम और अन्य सहूलतों के साथ लैस है। भगवंत सिंह मान ने उम्मीद ज़ाहिर की कि यह यादगार श्री गुरु रविदास जी के जीवन और फलसफे को कायम रखने में बहुत सहायक होगी।
समाज के कमज़ोर और पिछड़े वर्गों की दुख-तकलीफ़ें दूर करने के लिए और भी लगन के साथ मेहनत करने का प्रण लेते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि यह श्री गुरु रविदास जी की शिक्षाओं के अनुरूप है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार का फर्ज बनता है कि वह गरीब से गरीब वर्ग की भलाई को यकीनी बनाऐ जिसके लिए कई पहलकदमियां की जा रही हैं। भगवंत सिंह मान ने कहा कि श्री गुरु रविदास जी के आशीर्वाद के साथ उनकी सरकार भारी बहुमत के साथ सत्ता में आई है जो राज्य की सेवा कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री गुरु रविदास जी ने समूची मानवता की भलाई और समाज के सभी वर्गों की बराबरी का संदेश दिया जिससे समानतावादी मूल्यों पर आधारित समाज की सृजना की जा सके। उन्होंने कहा कि श्री गुरु रविदास जी ने ऐसे आदर्श समाज का संकल्प दिया, जहाँ किसी को किसी किस्म का दुख नहीं बर्दाश्त करना पड़ता। भगवंत सिंह मान ने कहा कि उनकी सरकार श्री गुरु रविदास जी की शिक्षाओं और फलसफे पर आधारित समाज की सृजन करने के लिए वचनबद्ध है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री गुरु रविदास जी का जीवन और शिक्षाएं मानवता को बराबरी वाले समाज की सृजन करने की तरफ मार्गदर्शन देती हैं। उन्होंने कहा कि श्री गुरु रविदास जी महान आध्यात्मक मार्गदर्शक और समाज के गरीब और बेसहारा वर्गों के मसीहा थे, जिन्होंने हमें नेक और उत्तम जीवन जीने का उपदेश दिया। भगवंत सिंह मान ने कहा कि यह ‘प्रकाश उत्सव’ ऐसे समाज की सृजन करने के प्रति अपने आप को समर्पित करने का मौका है जहाँ हर मानव बिना किसी भेदभाव के आत्म-सम्मान के साथ जीवन व्यतीत करता है। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि ‘भारत रत्न’ बाबा साहिब बी. आर. अम्बेदकर की विचारधारा अनुसार राज्य सरकार समाज के कमज़ोर वर्गों को मानक शिक्षा देकर उनका सशक्किरण कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से स्थापित किये गए ‘स्कूल आफ एमिनेंस’ गरीब परन्तु होनहार विद्यार्थियों को सुनहरे भविष्य के काबिल बना कर बाबा साहिब के सपनों को साकार करेंगे। भगवंत सिंह मान ने संगत को राज्य की अमन-शांति, तरक्की और खुशहाली के लिए अरदास करने की अपील करते हुये कहा कि श्री गुरु रविदास जी की बख्शीश स्वरूप राज्य सरकार की तरफ से जल्द ही प्रगतिशील पंजाब सृजन किया जायेगा।
राज्य सरकार की जनहितैषी पहलकदमियों का ज़िक्र करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने राज्य में काबिल नौजवानों को 40,000 से अधिक सरकारी नौकरियाँ दीं हैं। उन्होंने कहा कि पूरी भर्ती प्रक्रिया के लिए पारदर्शी विधि अपनाई गई है, जिस कारण अब तक एक भी नियुक्ति को किसी अदालत में चुनौती नहीं दी गई है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि पंजाब सरकार के लिए यह बड़े गौरव और संतोष की बात है कि इन नौजवानों को पूरी तरह योग्यता के आधार पर सरकारी नौकरियाँ दीं गई हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार महिलाओं के अधिक अधिकारों के लिए ठोस प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य के कई जिलों में सीनियर पुलिस कप्तान के तौर पर महिला अधिकारी तैनात हैं और 10 से अधिक जिलों में महिला डिप्टी कमिश्नर हैं। भगवंत सिंह मान ने कहा कि राज्य में लड़कियों की भलाई के लिए बड़े प्रयास किये जा रहे हैं और इन प्रयासों के ज़रुरी नतीजे सामने आ रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने दिसंबर, 2023 में नागरिकों को 43 महत्वपूर्ण सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रमुख सरकारी सेवाएं घर-घर जाकर पहुँचाने के लिए विशेष स्कीम शुरू की थी। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इस स्कीम के अंतर्गत नागरिक 1076 नंबर पर काल कर सकते हैं, अपनी सुविधा अनुसार समय दे सकते हैं और नागरिकों को घर-घर जाकर कर्मचारी सेवा प्रदान करते हैं। उन्होंने कहा कि अब इससे आगे जाकर राज्य सरकार ने एक और अहम पहलकदमी ‘आप’ की सरकार, तुहाडे द्वार’ के अंतर्गत राज्य भर में कैंप लगा कर नागरिकों तक पहुँच की है और राज्य की हर तहसील में रोज़मर्रा के चार कैंप लगाऐ जाएंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बहुत ही गौरव और संतोष की बात है कि सरकार के जनहितैषी फ़ैसलों के कारण राज्य के 90 प्रतिशत खपतकारों को ज़ीरो बिजली बिल मिल रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों को मानक सेहत सेवाएं प्रदान करने के लिए राज्य सरकार द्वारा पंजाब में 664 आम आदमी क्लीनिक स्थापित किये गए हैं और ऐसे 150 और क्लीनिक जल्दी ही राज्य के लोगों को समर्पित किये जाएंगे। भगवंत सिंह मान ने कहा कि अब तक लगभग एक करोड़ लोग इन क्लीनिकों से मुफ़्त सेहत सेवाओं का लाभ उठा चुके हैं और सेहत संभाल क्षेत्र में यह एक नयी क्रांति है और इस क्षेत्र को नया रूप देने के लिए यत्न जारी हैं।
मुख्यमंत्री ने व्यंग्य करते हुये कहा कि राज्य के एक पूर्व वित्त मंत्री ने नौ सालों तक ‘सरकारी ख़ज़ाना खाली’ होने का ढिंडोरा पीटे रखा जिससे राज्य के विकास पर बुरा प्रभाव पड़ा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब उन्होंने राज्य की ज़िम्मेदारी संभाली है, खजाने का एक- एक पैसा राज्य के विकास और लोगों की भलाई के लिए खर्चा जा रहा है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि उनकी सरकार ने सरकारी खजाने में होती लूटपाट बंद की जिससे यह यकीनी बनाया जा सके कि लोगों की भलाई के लिए एक-एक पैसा सूझबूझ के साथ खर्चा जाये।

The post मुख्यमंत्री ने किया श्री गुरु रविदास  का 650वां प्रकाश उत्सव व्यापक स्तर पर मनाने का ऐलान first appeared on Khabar Khaas.