Thursday , February 22 2024

नए साल पर आबकारी विभाग हुआ मालामाल, उत्तराखंड वासियों ने पी डाली 30 करोड़ रूपये का शराब

नए साल के जश्न में उत्तराखंड वासियों और सैलानियों ने करोड़ों रुपए की शराब गटक ली। जिसके बाद आबकारी विभाग की खूब चांदी हो गई। बता दें न्यू ईयर के मौके पर वन डे बार लाइसेंस भी खूब बांटे गए। बता दें आबकारी विभाग ने कुल 329 वन डे बार लाइसेंस स्वीकृत थे। इसमें से सबसे ज्यादा बार लाइसेंस देहरादून में दिए गए थे।

नए साल के स्वागत में प्रदेश में आए पर्यटकों और प्रदेशवासियों ने करीब 30 करोड़ रुपए की शराब गटक ली। नए साल के स्वागत के लिए अलग-अलग राज्यों से पर्यटक जश्न मनाने के लिए पहुंचे थे। होटल, रेस्टोरेंट, रिजॉर्ट आदि सभी जगह पर पर्यटकों के लिए अच्छी खासी बुकिंग रही।

नैनीताल, मसूरी, अल्मोड़ा, रानीखेत आदि जगहों पर बड़े-बड़े आयोजन भी किए गए थे। जिसमें भाग लेने के लिए दिल्ली, यूपी, हरियाणा के लोगों ने उत्तराखंड का रुख किया। इसके लिए आबकारी विभाग 10 दिन पहले से ही तैयारियां पूरी कर चूका था। आम तौर पर वन डे बार लाइसेंस पर पाबंदी थी। लेकिन खास मौकों के लिए यह जारी रहा।

आबकारी विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 20 दिसंबर से 31 दिसंबर तक प्रदेश में कुल 329 वन डे बार लाइसेंस जारी किए गए। देहरादून में 208, नैनीताल में 82, पौड़ी में 13, टिहरी में 10,अल्मोड़ा में आठ, हरिद्वार में पांच वन डे बार की अनुमति दी गई। अधिकारियों के अनुसार प्रदेशभर में करीब 30 करोड़ रुपये की शराब की बिक्री हुई।

अधिकारियों के अनुसार यह आंकड़ा केवल अंग्रेजी शराब की बिक्री का है। जबकि देसी मदिरा की बिक्री इससे अलग बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार आबकारी आयुक्त हरिचंद सेमवाल ने बताया कि इस बार प्रदेश के एंट्री पॉइंट और निर्धारित ड्यूटी स्थलों पर ED की टीमें लगाई गईं थी। जिसके चलते बाहरी राज्यों से तस्करी पर अंकुश लग पाया।