Thursday , February 22 2024

पंजाब : मछली पालन विभाग ने सार्दियों में जल जीवों की देखभाल को लेकर एडवाइजरी की जारी

चंडीगढ़ : पंजाब के मछली पालन विभाग ने राज्य के मछली पालकों को सर्दियों के दौरान जलजीवों की देखभाल को लेकर एडवाईजरी जारी की है। पंजाब के पशुपालन, डेयरी विकास और मछली पालन मंत्री गुरमीत सिंह खुंडि्डयां ने कहा है कि सर्दियों के मौसम के दौरान तापमान में गिरवाट आने के मददेनजर प्रदेश के मछली पालकों को मछलियों के तालाब में पानी का स्तर 6-7 फीट तक बनाए रखने की सलाह दी जाती है ताकि निचले गर्म जोन में हाईब्रेशन के लिए मछलियों को उपयुक्त जगह मुहैया करवाई जा सके।

इसके अलावा किसानों को भी यह सलाह दी गई है कि वह तापमान के हिसाब से मछलियों को खुराक देने, जैविक खुराक के प्रयोग को कम करने या बंद करें क्योंकि अधिक फीड तालाब के तल पर इक्टठा होनी शुरू हो जाती है जिससे पानी की गुणवत्ता बिगड़ने लगती है। इसके अतिरिक्त किसानों को आक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए सुबह तालाब में ताजा पानी डालने या ऐरीऐटरों के प्रयोग करने और तालाब के बीच के पानी के पीएच स्तर की नियमित जांच को यकीनी बनाने की सलाह दी जाती है।

कैबिनेट मंत्री ने मछली पालकों को अपने फार्मों में आक्सीजन की गोलियां या पाउडर रखने की सलाह दी है। इसके अलावा सर्दियों के मौसम के दौरान फिन रोट, गिल रोट, ईयूएस और आरगूलोसिस जैसी बीमारियों के अधिक जोखिम से प्रभावित होने वाली मछलियों को बचाने के लिए तालाब में 400 मिलीलीटर प्रति एकड़ सीआईएफएएक्स के प्रयोग की सिफारिश की गई है।