Monday , February 26 2024

रामलला प्राण प्रतिष्ठा के दिन अयोध्या में उतरेंगे 100 विमान

नई दिल्ली. रामलला की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर तैयारीयां युद्ध स्तर पर शुरू हो चुकी है. 22 जनवरी को रामलला का प्राण प्रतिष्ठा समारोह का आयोजन किया जाएगा. ऐसे में बड़ी संख्या में विशिष्ट मेहमान चार्टर्ड प्लेन से अयोध्या आएंगे. इस दिन 100 से ज्यादा विमानों के रामनगरी अयोध्या में आने की संभावना जताई जा रही है. इतनी बड़ी संख्या में विमान की लैंडिंग को लेकर प्रशासन ने अपनी तैयारियों को मुकम्मल करना शुरू कर दिया है.

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे और अब तक बनाए गए तीन हेलीपैड पर मेहमानों के चार्टर्ड प्लेन की लैंडिंग करायी जाएगी. विमानों की संख्या होने की वजह से श्रीराम अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे इन्हें उतारे जाने में समस्या आ सकती है. इसके मद्देनजर प्रशासन ने वाराणसी, प्रयागराज और गोरखपुर में भी वैकल्पिक इंतजाम करने शुरू कर दिए हैं. 

चार्टर्ड प्लेन की संख्या बढ़ी तो उन्हें इन तीन शहरों के हेलीपैड पर उतरवाने का प्लान तैयार किया जा रहा है. इन मेहमानों को इन वैकल्पिक हेलीपैड पर उतारकर सड़क मार्ग से रामजन्मभूमि परिसर तक ले जाने का प्रबंध किया जाएगा. बीते दिनों अयोध्या दौरे के दौरान सीएम योगी ने समीक्षा बैठक में इस बात के साफ तौर पर निर्देश दिये थे कि करीब 100 विमान 22 जनवरी को आ सकते है. ऐसे में प्रशासन को इसके मद्देनजर वैकल्पिक व्यवस्था को तैयार रखना चाहिए. 

22 जनवरी को भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 84 सेकंड का अति सूक्ष्म मुहूर्त निकाला गया है. जो 12 बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड तक होगा. रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए देश भर से 5 मुहूर्त प्रस्तावित किए गए थे. जिनमें से काशी के ज्योतिषाचार्य पंडित गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ ने इस मुहूर्त को चुना है. ऐसे में इस समय ही रामलला की प्राण प्रतिष्ठा किया जाएगा.