Thursday , February 22 2024

स्वास्थ्य मंत्री ने पंजाब स्टेट एड्ज कंट्रोल सोसायटी की दो अहम रिपोर्टें की जारी

चंडीगढ़ : पंजाब के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा. बलबीर सिंह ने शुक्रवार को पंजाब स्टेट एडज़ कंट्रोल सोसायटी (पीएसएसीएस) की दो महत्वपूर्ण रिपोर्टें जारी की, जिसमें ‘‘वार्षिक रिपोर्ट 2022- 23’’ और ‘‘ परीक्षा की सुरक्षा को बढ़ाने और प्रश्न पत्र लीक होने से रोकने के लिए ब्लॉकचेन तकनीक का प्रयोग’’, शामिल हैं।

डा. बलबीर सिंह ने कहा कि अपनी वार्षिक रिपोर्ट 2022-23 में, पीएसएसीएस ने एचआईवी/ एडज़ को कंट्रोल करने में अपनी महत्वपूर्ण प्राप्तियों का ज़िक्र किया है। उन्होंने बताया कि रिपोर्ट में डिवीजनोः बुनियादी सेवाएं, ख़ून चढ़ाने सम्बन्धी सेवाएं, देखभाल, सहायता और इलाज, जानकारी, शिक्षा और संचार, लैब सेवाएं, रणनीतिक जानकारी, और टारगैटड इंटरवैंशनज़ शामिल हैं, द्वारा सराहनीय योगदान डाला गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि पंजाब स्टेट एडज़ कंट्रोल सोसायटी ने इम्तिहानों की सुरक्षा को मज़बूत करने और सरकारी भर्ती परीक्षाओं में प्रश्न पत्र लीक होने को रोकने सम्बन्धी ब्लॉकचेन तकनीक का प्रयोग करते हुए एजुब्लॉक प्रो भी पेश किया।

“इस महत्वपूर्ण हल का उद्देश्य सरकारी परीक्षा प्रशासन में क्रांति लाना, शिक्षा प्रणाली में पारदर्शिता, अखंडता और सार्वजनिक निवेशों की सुरक्षा को यकीनी बनाना है।“ उन्होंने आगे कहा कि भविष्य में इस तकनीक को पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया को यकीनी बनाने के लिए अन्य विभागों में लागू किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पंजाब स्टेट एडज़ कंट्रोल सोसायटी समाज की बेहतरी के लिए नवीनतम हल और प्रोग्राम मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है।

इस मौके पर विशेष सचिव हैल्थ कम प्रोजैक्ट डायरैक्टर पीएसएचसी डॉ. अडप्पा कार्तिक, पंजाब हैल्थ सिस्टम कोरपोरेशन के मैनेजिंग डायरैक्टर वरिन्दर शर्मा, डायरैक्टर (स्वास्थ्य सेवाएं पंजाब) डाः आदर्शपाल कौर, परिवार कल्याण विभाग के डाः हितिन्दर कौर और अतिरिक्त प्रोजैक्ट डायरैक्टर पी. एस. ए. सी. एस डाः बोबी गुलाटी आदि उपस्थित थे।