Thursday , February 22 2024

स्वास्थ्य मंत्री डा. बलबीर सिंह ने सिवल सर्जनों के साथ वर्चुअल मीटिंग की

इंफलुऐंज़ा/सांस सम्बन्धी गंभीर बीमारियों के वायरस के फैलाव से निपटने के लिए डाक्टरों, मैडीकल स्टाफ की कोई कमी नहीं : डाक्टर बलबीर सिंह

 

चंडीगढ़, 19 दिसंबरः इंफलुऐंज़ा जैसी बीमारी / सांस लेने सम्बन्धी गंभीर बीमारी (आईऐलआई/ऐसएआरआई) जैसे कि कोविड-19, सम्बन्धी रिपोर्टें सामने आने पर पंजाब के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. बलबीर सिंह ने मंगलवार को कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार ऐसी किसी भी तरह की आपात स्थिति से प्रभावशाली ढंग से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।

 

स्वास्थ्य मंत्री, जोकि राज्य की स्वास्थ्य सहूलतों में मैडीकल बुनियादी ढांचे के प्रबंधों का जायज़ा लेने के लिए राज्य के सिवल सर्जनों के साथ एक वर्चुअल मीटिंग कर रहे थे, ने कहा कि राज्य सरकार अस्पतालों में ज़रुरी बैडों और वैंटीलेटरों के इलावा वायरस के फैलाव से निपटने के लिए पीपीइ किटों, मास्क और टेस्टिंग किटों की उपलब्धता और उचित प्रबंधों के साथ पूरी तरह तैयार है।

 

उन्होंने कहा कि राज्य की सभी स्वास्थ्य सहूलतों में ज़रुरी डाक्टर और मैडीकल स्टाफ मौजूद है। इसके इलावा राज्य के सभी सरकारी अस्पतालों में सभी आक्सीजन प्लांट और एमरजैंसी सिस्टम सक्रिय हैं।

 

हालाँकि स्थिति काबू में है और लोगों को घबराने की ज़रूरत नहीं है, परन्तु बावजूद इसके डॉ. बलबीर सिंह ने लोगों को इस बीमारी के फैलाव को रोकने के लिए बार-बार हाथ धोने और स्वास्थ्य और सुरक्षा प्रोटोकोल की सख़्ती से पालना करने की अपील की।

 

उन्होंने कहा, “लोगों, ख़ास तौर पर जिनकी इम्यूनटी कम है (इम्यूनोकम्परोमाईज़ड) या जिनको कोविड के लक्षण जैसे ज़ुकाम या खाँसी हैं, को अपना ज़्यादा ध्यान रखना चाहिए और जब तक कोई ज़रूरी काम न हो, बाहर जाने से परहेज़ करना चाहिए।

 

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को अफ़वाहों से बचने की अपील भी की।

 

मीटिंग में स्वास्थ्य विभाग के सचिव अजोए शर्मा,, एन. एच. एम. के मिशन डायरैक्टर डाः अभिनव त्रिखा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के डायरैक्टर डाः आदर्शपाल कौर, परिवार कल्याण के डायरैक्टर डाः हितिन्दर कौर भी उपस्थित थे।

——

The post स्वास्थ्य मंत्री डा. बलबीर सिंह ने सिवल सर्जनों के साथ वर्चुअल मीटिंग की first appeared on .