Monday , March 4 2024

पंजाब : 20 हजार कृषि नलकूप सौर ऊर्जा पर किये जाएंगे : अमन अरोड़ा

चंडीगढ़: पंजाब के नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत मंत्री अमन अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की दूरदर्शी सोच अनुसार सौर ऊर्जा के उचित प्रयोग को यकीनी बनाने और कृषि सैक्टर को कार्बन मुक्त करने के लिए पंजाब सरकार राज्य में 20,000 कृषि ट्यूबवैलों को सौर-ऊर्जा पर करेगी।

आज यहां अपने दफ़्तर में विभाग के चल रहे प्रोजेक्टों की समीक्षा के लिए बुलाई मीटिंग की अध्यक्षता करते हुये श्री अमन अरोड़ा ने विभाग के अधिकारियों को हिदायत की कि कृषि पंप सैटों की सोलराईज़ेशन सम्बन्धी प्रक्रिया को पारदर्शी और निष्पक्ष ढंग से पूरा किया जाये। इसके इलावा बेशकीमती जल स्रोतों को बचाने के लिए डार्क ज़ोन में फव्हारा और बूंद सिंचाई विधि के लिए ही सोलर पंपों की अलॉटमैंट को यकीनी बनाया जाये।

उन्होंने विभाग के अधिकारियों को राज्य सरकार की इमारतों को सोलर फोटोवोलटेइक ( पी. वी.) पैनलों के साथ लैस करने के काम में तेज़ी लाने के लिए भी कहा क्योंकि मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार पावर सैक्टर को डीकारबोनाईज़ करने के लिए सख़्त यत्न कर रही है और सोलर पी. वी. अपने अलग-अलग लाभों के कारण नवीकरणीय ऊर्जा का सबसे पसंदीदा स्रोत बन गया है। इस मौके पर उन्होंने सी. बी. जी. प्रोजैकटों की स्थिति का भी जायज़ा लिया।

पंजाब एनर्जी डिवैल्पमैंट एजेंसी (पेडा) के सीईओ डॉ. अमरपाल सिंह ने बताया कि सरकारी इमारतों की छतों पर सोलर पी. वी. पैनल लगाने के लिए 436 सरकारी इमारतों का चयन किया गया है और पहले पड़ाव में 70 इमारतों को जल्द ही सोलर पी. वी. पैनलों के साथ लैस किया जायेगा। उन्होंने अन्य चल रहे प्रोजेक्टों की प्रगति और मौजूदा स्थिति के बारे भी जानकारी सांझा की। अरोड़ा ने बाग़बानी और भू और जल संरक्षण विभागों के अधिकारियों को भी निर्देश दिए कि वे अपनी चल रही स्कीमों को कृषि पंपों के सोलराईज़ेशन सम्बन्धी प्रोजैक्ट के साथ जोड़ कर योग्य लाभार्थियों तक पहुंचाना यकीनी बनाएं। इस मीटिंग में डायरैक्टर पेडा एम. पी. सिंह, डायरैक्टर बागबानी शैलिन्दर कौर और अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।