Wednesday , February 21 2024

दो हफ़्तों का डेयरी फार्मिंग प्रशिक्षण प्रोग्राम 18 दिसंबर से  

प्रशिक्षण के उपरांत किसान 2 से 20 दुधारू पशूओं का डेयरी यूनिट स्थापित करने के लिए सब्सिडी हासिल करने के योग्य होंगे: गुरमीत सिंह खुड्डियां

  

 चंडीगढ़, 16 दिसंबर: मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की दूरदर्शी सोच के अनुसार दूध उत्पादन और राज्य के किसानों की आमदन में वृद्धि करने के उद्देश्य से डेयरी विकास विभाग द्वारा 18 से 29 दिसंबर, 2023 तक दो हफ़्तों के डेयरी फार्मिंग प्रशिक्षण प्रोग्राम के लिए नया बैच शुरू किया जा रहा है।

 

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए पंजाब के पशु पालन, डेयरी विकास और मछली पालन विभाग के मंत्री स. गुरमीत सिंह खुड्डियां ने बताया कि प्रशिक्षण के बाद जनरल श्रेणी के किसान विभाग की स्कीम के अधीन 2 से 20 पशुओं का डेयरी यूनिट स्थापित करने के लिए हरेक दुधारू पशु पर 17,500 रुपए सब्सिडी का लाभ लेने के योग्य होंगे। इसी तरह अनुसूचित जाति (एस.सी.) वर्ग से सम्बन्धित डेयरी किसानों को ऐसे ही यूनिट की स्थापना के लिए हरेक दुधारू पशु पर 23,100 रुपए सब्सिडी मिलने योग्य होगी।

 

कैबिनेट मंत्री ने बताया कि किसान मॉडल केटल शैड, दूध दुहने की मज़दूरी वाली (मिल्किंग) मशीनों और चारा काटने वाली मशीनों ( फौडर हारवैस्टर) समेत अन्य मशीनरी पर भी सब्सिडी का लाभ ले सकते हैं।

 

उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र से सम्बन्धित 18 से 55 साल की उम्र के डेयरी फार्मर, जिन्होंने कम से कम 5वीं पास की हो और हरा चारा उगाने के लिए अपनी ज़मीन हो, तो वह अपने पास के जि़ला डिप्टी डायरैक्टर, डेयरी विकास दफ़्तर में अपना शिक्षा योग्यता सर्टिफिकेट, आधार कार्ड और पासपोर्ट साईज़ फोटो जमा करवा कर इस प्रशिक्षण के लिए अपना नाम दर्ज करवा सकते हैं।

 

उन्होंने बताया कि इस प्रशिक्षण के दौरान डेयरी फार्मरों को दुधारू पशुओं के पालन पोषण, ख़ुराक, बीमारियों से बचाव, नसल सुधार, सारा साल हरा चारा पैदा करने, दूध से अन्य उत्पाद बनाने आदि संबंधी पूरी जानकारी दी जायेगी। ‎