Monday , February 26 2024

पंजाब में पशुओं को मुंह की बीमारी से बचाने के लिए व्यापक स्तर टीकाकरण की शुरूआत

एफएमडी वैक्सीन की 68 लाख से अधिक डोज़ प्राप्त: खुड्डियां

कहा, पशु पालन विभाग पशु-पालकों के घरों में जाकर कर रही है मुफ्त टीकाकरण  

खबर खास, चंडीगढ़ :
राज्य में पशुओं के मुंह की बीमारी (एफएमडी) को रोकने के लिए, पंजाब के पशु पालन विभाग द्वारा बड़े स्तर पर पशुओं के टीकाकरण की मुहिम शुरु की गई है। पंजाब के पशु पालन, डेयरी विकास और मछली पालन मंत्री गुरमीत सिंह खुड्डियां ने इसे लेकर कहा है कि राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत 68,45,300 एफएमडी वैक्सीन की डोज प्राप्त की गई हैं।
खुड्डियां ने बताया कि इस मुहिम के अंतर्गत अब तक लगभग 75 फ़ीसदी पशुओं को कवर करते हुए कुल 48,73,277 एफएमडी वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में 20 दिसंबर तक 100 फीसदी पशुधन ( लगभग 65,03,505) का टीकाकरण मुकम्मल किया जाएगा।
कैबिनेट मंत्री ने बताया कि यह टीकाकरण बिल्कुल मुफ्त किया जा रहा है और यह टीकाकरण पंजाब के पशु पालन विभाग के स्टाफ द्वारा पशु पालकों/डेयरी किसानों के घर-घर जाकर किया जा रहा है। इस टीकाकरण मुहिम का मुख्य उद्देश्य पशुओं को मुंहपका की बीमारी से बचाना है, जिसको विश्व स्तर पर पशुओं के लिए गंभीर ख़तरा माना गया है।
राज्य के पशु पालकों को इस बीमारी के कारण होने वाले दूध उत्पादन के नुकसान से बचाने के लिए अपने पास के वैटरनरी संस्थाओं के साथ संपर्क कर इस बीमारी के ख़ात्मे के लिए अपने पशुओं का टीकाकरण करवाने की अपील करते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि एफएमडी का आर्थिक प्रभाव बहुत ज़्यादा है।