Monday , March 4 2024

92 करोड़ रुपए के नौ प्रोजेक्टों में से तीन वाटर ट्रीटमेंट प्लांटों को अमरुत 2.0 के अंतर्गत मंजूरी

मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार अपने निवासियों को 100 फ़ीसद जल सप्लाई सहूलतें यकीनी बनाने के लिए वचनबद्ध

चंडीगढ़, 8 दिसंबरः मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की इच्छा अनुसार राज्य के लोगों को 100 फ़ीसद जल सप्लाई की सुविधा मुहैया करवाने के लिए राज्य स्तरीय तकनीकी कमेटी ने अमूर्त 2.0 के अंतर्गत 92 करोड़ रुपए के नैटवर्क वाले तीन वाटर ट्रीटमेंट प्लांटों और छह जल सप्लाई प्लांटों की विस्तृत प्रोजैक्ट रिपोर्टों ( डी. पी. आर.) का मूल्यांकन किया।

यह मीटिंग स्थानीय निकाय मंत्री बलकार सिंह के दिशा निर्देशों पर हुई।

राज्य स्तरीय तकनीकी कमेटी की मीटिंग आज यहाँ म्युंसिपल भवन में सचिव स्थानीय निकाय अजोए शर्मा की अध्यक्षता अधीन हुई।

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये सचिव अजोए शर्मा ने बताया कि कमेटी ने जंडियाला गुरू, भाई रुपा और रईया समेत तीन कस्बों के लिए लगभग 60 करोड़ रुपए के तीन वाटर ट्रीटमेंट प्लांटों का मूल्यांकन किया है। ज़िक्रयोग्य है कि जंडियाला गुरू में 16.52 करोड़ रुपए की लागत के साथ 7. 0 ऐमऐलडी वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगवाना है जिससे 34080 की आबादी को फ़ायदा होगा, जबकि रईया में 14.81 करोड़ रुपए का 4 ऐमऐलडी प्लांट लगाया जायेगा जिससे 17986 लोगों को लाभ होगा। इसी तरह भाई रुपा में 16.88 करोड़ रुपए की लागत के साथ 4 एम. एल. डी प्लांट लगवाना है जिससे 22008 लोगों को लाभ होगा। कमेटी ने जल सप्लाई नैटवर्क को भी मंजूरी दे दी है।

सचिव ने बताया कि कमेटी ने छह कस्बों जिनमें पट्टी, भिक्खीविंड, रईया, भाई रुपा और अहमदगढ़ शामिल हैं, के लिए लगभग 32 करोड़ रुपए के जल सप्लाई वितरण नैटवर्क को भी मंजूरी दी है।

उन्होंने कहा कि राज्य स्तरीय तकनीकी कमेटी द्वारा इन प्रोजेक्टों की डी. पी. आर. मंजूरी मिलने से इनके शुरू होने का रास्ता साफ हो गया है और निर्माण प्रक्रिया शुरू करने के लिए जल्द ही टैंडर जारी किये जाएंगे।