Sunday , February 5 2023

भाई वीर सिंह की 150वीं जयंती पर राज्यपाल ने पुस्तक विमोचन किया

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) गुरमीत सिंह सोमवार को प्रीतम रोड स्थित डॉ. बलबीर सिंह साहित्य केंद्र में पंजाबी यूनिवर्सिटी की ओर से आयोजित ‘भाई वीर सिंह’ की 150वीं जयंती पर आयोजित गोष्ठी में पहुंचे। उन्होंने डॉ. बलबीर सिंह साहित्य सदन में रखे सिख साहित्य की जानकारी भी ली। इस दौरान उन्होंने दो पुस्तकों का विमोचन किया।

गोष्ठी को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि हम सब को गुरु नानक के दिखाए मार्ग पर चलना चाहिए, जिसमें करुणा मानवता के बारे में बताया गया है। उन्होंने कहा कि भाई वीर सिंह ने अपने विस्तृत शोध के जरिए सिख साहित्य से उल्लिखित मानवता, भाईचारा, करूणा, सेवा जैसे गुणों के महत्व को स्थापित किया है। उन्होंने कहा कि हम सबकी जिम्मेदारी है कि वीर सिंह के सोच, विचार और धारणा को आगे बढ़ाया जाए।

उन्होंने डॉ. बलबीर सिंह साहित्य केंद्र के पदाधिकारियों से अपेक्षा की। कहा कि भविष्य में इस केंद्र को सेंटर ऑफ एक्सिलेंस के तौर पर विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही इस केंद्र में आईएएस, आईपीएस परीक्षा के लिए कोचिंग सेंटर भी चलाया जाएगा। उन्होंने हेमकुंड साहिब के लिए प्रस्तावित रोपवे के स्वीकृति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में हेमकुंड साहिब मैनेजमेंट ट्रस्ट के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह बिंद्रा, पंजाबी यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. अरविंद, डॉ. जसपाल कौर नारंग, संत जोत सिंह, डॉ. परमवीर आदि मौजूद रहे।