Thursday , April 18 2024

बड़ा पुल हादसा : पुर्तगाल में गई 4400 की जान, जापान में नहीं मिले थे 1400 लोगों के शव

नई दिल्ली। गुजरात के मोरबी में पुल टूटने से सैकड़ों लोगों की जान जा चुकी है। दुनिया के कई देशों में भी ऐसे भयावह हादसे हुए हैं, जिसमें एक झटके में हजारों की जान जा चुकी है। इंटरनेशनल रोड फेडरेशन के अनुसार, दुनिया के 70 पुलों के रखरखाव में कोताही बरती जाती है। विश्व के कई देश ब्रिज मैनेजमेंट सिस्टम का पालन नहीं करते हैं जिससे ऐसे हादसे होते रहते हैं।

पर्यटन के लिहाज से 1806 में पोर्टो में छह ब्रिज बनाए जा रहे थे। 1809 में फ्रांस ने पुर्तगाल पर हमला बोला तो लोग एक निर्माणाधीन ब्रिज के जरिए ही शहर छोड़कर भागने लगे। क्षमता से अधिक वजन बढ़ने पर ब्रिज भरभरा कर गिर गया। इस हादसे में 4400 से अधिक लोगों की जान चली गई थी। हादसे में पुल का मध्य हिस्सा जो 100 फीट लंबा था वो दाउरो नदी के पानी में समा गया था। हादसे के बाद सैकड़ों लोगों के शव बरामद नहीं हो सके थे।

जापान की राजधानी टोक्यो में वर्ष 1807 में एक उत्सव के दौरान एतियाई-बाशी ब्रिज पर बारह साल बाद भारी भीड़ उमड़ी थी। भीड़ बढ़ने पर पुल बीच से ही टूट गया और 1400 लोग सुमिदा नदी के बहाव में बह गए थे। इस घटना में एक भी व्यक्ति का शव बरामद नहीं हो सका था। यह पुल 200 मीटर लंबा और छह मीटर चौड़ा था। पुल को सपोर्ट देने के लिए 30 पोल भी लगे थे लेकिन हादसे के वक्त कुछ काम नहीं आया।

ओहियो नदी पर बना सिल्वर ब्रिज अमेरिका के 35 क्षेत्रों को जोड़ता था। 15 दिसंबर 1967 को पुल पर अचानक यातायात बढ़ गया और पलभर में पुल ओहियो नदी में समा गया। हादसे में 46 की मौत हो गई थी। जांच में पाया गया था कि ब्रिज पर क्षमता से अधिक भीड़ बढ़ी थी और मानक के अनुसार उसका मेंटेनेंस भी नहीं हुआ था।

1. दार्जीलिंग 22 अक्तूबर, 2011 को बिजनबाड़ी में लकड़ी का पैदल पार पथ गिरने से 32 लोगों की मौत।

2. अरुणाचल प्रदेश दार्जीलिंग हादसे के एक हफ्ते बाद कामेंग नदी पर पैदल पारपथ ढह गया, 30 की मौत।

3. कोलकाता-विवेकानंद फ्लाईओवर 2016 में कोलकाता में निर्माणाधीन फ्लाईओवर ढहा, 26 की मौत।

4. कोलकाता- माजेरहाट फ्लाईओवर हादसा दक्षिण कोलकाता स्थित माजेरहाट पुल चार सितंबर 2018 को ढह गया। तीन की मौत हो गई।

5. मुंबई पैदल पारपथ हादसा छत्रपति शिवाजी महाजार टर्मिनस रेलवे स्टेशन के निकट पैदल पुल 14 मार्च 2019 को ढहा। छह लोगों की मौत।