Sunday , May 19 2024

विधिवत पूजा अर्चना के साथ चैती मेले का शुभारंभ

रिपोर्ट :- अज़हर मलिक

काशीपुर।चैती मेले का नवरात्रि के पहले दिन हुआ आगाज़,डीएम ने किया विधिवत उद्घघाटन।वैदिक मंत्रोचार के साथ विकास पंडा ने किया शुभारम्भ।उद्धघाटन में एसएसपी भी रहे मौजूद,सुरक्षा व्यवस्था एसएसपी ने दिये पुलिस बल को निर्देश।इस बार बहुत कुछ रहेगा मेले में खास।

काशीपुर के प्रसिद्ध बाल सुन्दरी देवी के मंदिर में लगने वाले चैती मेले का शनिवार को विधिवत पूजा अर्चना के साथ शुभारम्भ किया गया, नवरात्र के पहले दिन से आयोजित होने वाले मेले का उद्घघाटन डीएम युगल किशोर पंत ने पुरोहितों की मौजूदगी में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ किया, साथ ही कुमाऊं नरेश के साथ धर्म ध्वजा फहरा कर मेले का विधिवत उद्धघाटन किया गया, आखिर क्या है चैती मेले की विशेषता और क्यों लाखों भक्तों की आस्था का केन्द्र है बाल सुन्दरी मंदिर देखिये हमारी ये रिपोर्ट।

चैती मेला काशीपुर क्षेत्र का प्रसिद्ध मेला है, इसका आयोजन उधमसिंह नगर जिले के काशीपुर में प्रतिवर्ष चैत्र मास की नवरात्रि में आयोजित किया जाता है। यह धार्मिक एवं पौराणिक रूप से ऐतिहासिक स्थान है, काशीपुर में कुँडेश्वरी मार्ग पर स्थित यह स्थान महाभारत काल से भी सम्बन्धित रहा है और यहीं यहां बालासुन्दरी देवी का मंदिर है जो इक्यावन शक्तिपीठों में से एक है, मेले के अवसर पर दूर-दूर से यहाँ श्रद्धालु आते हैं। माँ बालासुन्दरी के इस मंदिर में भी नवरात्रि में अष्टमी, नवमी व दशमी के दिन यहाँ श्रद्धालुओं का समूह ही उमड़ पड़ता है, कहते हैं इस स्थान पर भगवान विष्णु द्वारा सुदर्शन चक्र से माता सती के अंगों को काट दिये जाने के बाद माता की दायीं भुजा यहां गिरी थी। तभी से यहां माता की कोई मूर्ति नहीं बल्कि एक शिला पर उनकी दायीं भुजा की आकृति गढी हुई है, उसी की पूजा की जाती है।