Wednesday , April 24 2024

सुप्रीम कोर्ट ने हॉर्स ट्रेडिंग को चिंताजनक बताया, हाईकोर्ट में जमा बैलेट पेपर मंगवाए, कल फिर सुनवाई

चंडीगढ़. चंडीगढ़ नगर निगम के मेयर चुनाव में हॉर्स ट्रेडिंग पर चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने चिंता जताई है. उन्होंने हाईकोर्ट में जमा चुनाव वाले बैलेट पेपर मंगवा लिए हैं. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बैलेट पेपर देखने के बाद आगे का फैसला होगा. इसके अलावा चुनाव अधिकारी अनिल मसीह को कल भी सुप्रीम कोर्ट में हाजिर रहने को कहा है. सुप्रीम कोर्ट ने अनिल मसीह से पूछा कि वह बैलेट पेपर पर जो सिग्नेचर कर रहे थे, वह किस नियमों के तहत कर रहे थे. कैमरे की तरफ क्यों देख रहे थे?.

इस पर अनिल मसीह ने कहा कि सामने से आम आदमी पार्टी के पार्षदों का हंगामा हो रहा था. वह कैमरा-कैमरा कर रहे थे. इस वजह से उन्होंने कैमरे की तरफ देखा. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने नाराजगी जताई और कहा कि अनिल मसीह पर केस चलना चाहिए. सुप्रीम कोर्ट ने सॉलिसिटर जनरल को भी कहा कि वे इस मामले को देखें.

कल यानी मंगलवार को फिर इस मामले की सुनवाई होगी. कल सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की रॉ फुटेज फिर देखी जाएगी. इस मामले में दोबारा चुनाव होंगे या नहीं, इसको लेकर कल फैसला होगा. सुप्रीम कोर्ट ने डीसी को यहां नया चुनाव अधिकारी बनाने को भी कहा.

सुनवाई से पहले मेयर ने इस्तीफा दिया

इससे पहले चंडीगढ़ में भाजपा के मेयर बने मनोज सोनकर ने रविवार (18 फरवरी) देर रात अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. चंडीगढ़ भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अरुण सूद ने मेयर के इस्तीफे की पुष्टि की है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर चुनाव अधिकारी अनिल मसीह दिन में ही पहुंच गए थे.

सुप्रीम कोर्ट में आज की सुनवाई इंडिया गठबंधन के मेयर पद के उम्मीदवार कुलदीप कुमार टीटा की तरफ से याचिका दायर की गई है. गठबंधन ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि चंडीगढ़ के मेयर चुनाव में चुनाव अधिकारी अनिल मसीह ने वोटों की गिनती में धांधली की. जिससे बीजेपी ने धोखे से अपना मेयर बनाया है.