Tuesday , February 27 2024

स्पैशल डीजीपी अर्पित शुक्ला ने राज्य से गैंगस्टरों, समाज विरोधी तत्वों और नशा तस्करों के सफाए के लिए पंजाब पुलिस की प्रतिबद्धता दोहराई  

लुधियाना एनकाउंटर: एनकाउंटर के दौरान मारे गए गैंगस्टरों के अगले-पिछले संबंधों का पता लगाने के लिए विशेष जांच टीम का गठन  

लुधियाना कमिश्नरेट पुलिस ने फैक्ट्री मालिक से छीनी गई कीया सैलटोस कार भी की बरामद: अर्पित शुक्ला  

चंडीगढ़, 30 नवंबर: स्पैशल डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस, कानून-व्यवस्था अर्पित शुक्ला ने आज यहाँ बताया कि पिछले दिनों लुधियाना में पुलिस मुठभेड़ के दौरान मारे गए दोनों गैंगस्टरों के अगले-पिछले संबंधों का पता लगाने के लिए डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस (ग्रामीण) जसकिरनजीत सिंह तेजा के नेतृत्व में विशेष जांच टीम (एस.आई.टी.) का गठन किया गया है। बताने योग्य है कि एडीसीपी इन्वेस्टिगेशन रुपिन्दर कौर सरां, एडीसीपी-2 सोहेल मीर और एसएचओ डेहलों इस एस.आई.टी. के मैंबर हैं।

स्पैशल डीजीपी, जिनके साथ पुलिस कमिश्नर लुधियाना कुलदीप सिंह चाहल भी मौजूद थे, यहाँ पंजाब पुलिस हैडक्वाटर में प्रैस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे।

जानकारी के मुताबिक दोनों गैंगस्टरों की पहचान संजीव कुमार उर्फ संजू बाहमण (26) और शुभम उर्फ गोपी ( 26) के रूप में हुई है। यह दोनों गैंगस्टर लुधियाना के एक उद्योगपति पर गोलियाँ चलाने और लूट-पाट के मामले में वांछित थे, जिनको लुधियाना के दोराहा स्थित टिब्बा पुल के नज़दीक बुधवार शाम को हुए मुकाबले के दौरान पुलिस ने मार गिराया। इन गैंगस्टरों के पाँच साथी 26 नवंबर को लुधियाना पुलिस ने पहले ही गिरफ़्तार कर लिए थे।

मुठभेड़ के दौरान हुई दो-तरफा गोलीबारी के दौरान ए.एस.आई. सुखदीप सिंह गोली लगने से जख़़्मी हो गए थे। इस सम्बन्धी पुलिस ने थाना साहनेवाल में इंस्पेक्टर कुलवंत सिंह के बयानों के आधार पर आइपीसी की धारा 307, 332, 353 और 186 और आम्र्स एक्ट की धारा 25 और 27 के अंतर्गत एफआईआर नंबर 285 दर्ज की है।

स्पैशल डीजीपी अर्पित शुक्ला ने बताया कि मारे गए दोनों गैंगस्टरों का पुराना आपराधिक रिकॉर्ड है, जो पंजाब पुलिस को आम्र्स एक्ट, चोरी/डकैती और एनडीपीएस एक्ट से सम्बन्धित कई आपराधिक मामलों में वांछित थे।

उन्होंने बताया कि पकड़े गए व्यक्तियों के पास से लुधियाना पुलिस ने कीया सैलटोस कार भी बरामद कर ली है, जो उक्त व्यक्तियों ने फैक्ट्री मालिक से छीनी थी।

पंजाब को सुरक्षित राज्य बनाने के लिए मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए स्पैशल डी.जी.पी. ने कहा कि पंजाब पुलिस राज्य से गैंगस्टरों, समाज विरोधी तत्वों और नशा तस्करों के ख़ात्मे के लिए सहृदय प्रयास कर रही है और किसी को भी राज्य की शांति और सद्भावना को भंग करने की इजाज़त नहीं दी जाएगी।