ट्रैफिक दरोगा ने मां-बेटी को जूते से पीटा, बेल्ट उतारकर दौड़ाया, गाली-गलौज करते हुए जेल भेजने की दी धमकी

कानपुर (DVNA)। शहर के पनकी में मां-बेटी को एक नशेबाज ट्रैफिक दरोगा के अश्लील कमेंट का विरोध करना भारी पड़ गया। नशे में धुत दरोगा ने मां.बेटी को पहले जूते से जमकर पीटा, फिर लात से मारा। इसके बाद जमकर अभद्रता की और हाथ में बेल्ट उतारकर दौड़ाते हुए धमकाया। रोड पर करीब आधे घंटे तक तमाशा चलता रहा। सूचना पर पहुंची पनकी पुलिस ने दरोगा को हिरासत में लिया। इसके बाद दरोगा और महिला दोनों की तहरीर पर एक-दूसरे के खिलाफ क्रॉस एफआईआर दर्ज की गई।
रतनपुर में रहने वाली एक युवती शनिवार शाम को अपनी मां के साथ शुक्रवार रात सब्जी खरीद कर घर जा रही थी। अभी वह इलाके के गोविंद चौराहा के पास पहुंची थी। तभी चौराहे में होमगार्ड और अन्य युवक के साथ बैठे कानपुर देहात में तैनात ट्रैफिक दरोगा श्यामवीर सिंह ने युवती और उसकी मां पर अश्लील कमेंट कर दिया।
महिला और उसकी बेटी ने इसका विरोध किया तो दरोगा को नागवार गुजरा। नशे में धुत दरोगा ने मां-बेटी से गाली-गलौज करते हुए जूता उतारकर पीटा। बेल्ट उतारकर मारने के लिए दौड़ा लिया। लात से मारा और जमकर हंगामा काटा। जेल भेजने की धमकी भी दी।
दरोगा के साथ मौजूद युवक ने भी किया सहयोग
दरोगा के साथ मौजूद एक युवक ने भी उसका सहयोग किया। वहां मौजूद कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। कंट्रोल रूम की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस दरोगा को हिरासत में लेकर थाने आ गई। पनकी थाना प्रभारी दधिबल तिवारी ने बताया कि महिला की तहरीर पर आरोपी दरोगा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। वहीं दरोगा के साथ मौजूद युवक की तहरीर पर मां-बेटी के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज की गई है। पीडि़त महिला ने बताया कि बार.बार पूछने के बाद भी पनकी थाने की पुलिस ने आरोपी दरोगा का नाम नहीं बताया और अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। इसके साथ ही पनकी थाना प्रभारी ने पनकी निवासी कानपुर देहात में तैनात दरोगा श्यामवीर सिंह के खिलाफ कार्रवाई के लिए रिपोर्ट भी नहीं भेजी।

Loading...

Auto Fetched by DVNA Services

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button