Friday , July 12 2024

बिना परेशानी और उचित सेवाएं देने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को जारी होंगे निर्देश

राजस्व मंत्री जिम्पा ने ऑनलाइन सेवाओं का विस्तार करने के लिए की सीएम मान की प्रशंसा

खबर खास, चंडीगढ़ :

पंजाब सरकार द्वारा नागरिकों को दी जाती आनलाइन सेवाओं में और विस्तार करने की राजस्व मंत्री ब्रम संकर जिम्पा ने प्रशंसा की है। बता दे कि बीते दिनों ई- गवर्नेंस प्रणाली में पटवारियों को शामिल करके उनकी आनलाइन आईडी बनाई गई है। इसके साथ अब दस्तावेज़ वैरीफिकेशन सम्बन्धित ज़्यादातर सेवाओं का लाभ लोग घर बैठे ले सकेंगे। यह कदम जाति, रिहायश, बुढापा पैंशन स्कीम और आमदन सर्टीफिकेट सहित अन्य कई सर्टीफ़िकेट के लिए सत्यापित प्रक्रिया को उचित बनाएगा।

पटवारियों को आनलाइन सिस्टम में शामिल करने के साथ आवेदको को अब अपनी वैरीफिकेशन रिपोर्टों पर मोहर और हस्ताक्षर करवाने के लिए पटवारी के दफ़्तर में जाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी। एक बार आवेदन- पत्र संचित करवाने पर उसको सम्बन्धित दफ़्तर द्वारा सम्बन्धित पटवारी को आनलाइन भेजा जायेगा जो कि उसको वैरीफाई करेगा।

जिम्पा ने कहा कि इस प्रकार की बहुत सी नागरिक सेवाएं है जो कि राजस्व विभाग के अधिकारियों एंव कर्मचारियों द्वारा दी जाती है और यह सुनिश्चित किया जाएगा कि लोगों को यह सभी सेवाएं बिना परेशानी एंव बिना भ्रष्टाचार के मिले। उन्होंने कहा कि इस उदेश्य की पूर्ति के लिए जल्द ही राजस्व विभाग के उच्च अधिकारियों द्वारा फील्ड स्टाफ को एक हिदायतनामा जारी करने के निर्देश दिए जाएंगे ताकि प्रत्येक को यह स्पष्ट हो जाए कि मुख्य मंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार नागरिकों को निर्विघ्न और आसान ढंग से सेवाएं देने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि यह हिदायतनामा निचले स्तर से ले कर उच्च अधिकारियों तक लागू होगा।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार भ्रष्ट और कामचोर अधिकारियों/ कर्मचारियों के सख़्त ख़िलाफ़ है और इसी कारण राज्य में सत्ता संभालने के बाद मुख्य मंत्री ने भ्रष्टाचार करने वाले अधिकारियों/ कर्मचारियों की शिकायत के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया था। उन्होंने बताया कि राजस्व विभाग के कामों सम्बन्धित शिकायत दर्ज करवाने के लिए भी नंबर 8184900002 जारी किया गया है। एनआरआईज़ राजस्व विभाग सम्बन्धित अपनी शिकायतें 9464100168 नंबर पर दर्ज करवा सकते हैं। यह नंबर केवल लिखित शिकायत के लिए है।

उन्होंने कहा कि लोगों के जायज़ काम न करने वाले और जान-बूझ कर परेशान करने वाले अधिकारियों/ कर्मचारियों ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी और लोगों से अपील की कि यदि कोई अधिकारी या कर्मचारी जायज़ काम करने के लिए परेशान करता है, रिश्वत मांगता है या राजस्व विभाग के कामों सम्बन्धित लोगों को कोई शिकायत है तो वह हैल्प लाईन नंबरों पर बेझिझक शिकायत दर्ज करवाए। भ्रष्ट अधिकारियों एंव मुलाजिमों को किसी भी कीमत पर बक्शा नहीं जाएगा।

The post बिना परेशानी और उचित सेवाएं देने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को जारी होंगे निर्देश first appeared on Khabar Khaas.