Tuesday , July 16 2024

पंजाब में स्टेट पेंशन योजना के तहत मृतकों, एनआरआई और सरकारी पेंशनरों और लाभार्थियों से की 44.34 करोड़ की रिकवरी

डॉ. बलजीत कौर के आदेशों पर सामाजिक सुरक्षा विभाग द्वारा पेंशन संबंधी किया गया था सर्वेक्षण
प्रदेश सरकार द्वारा पेंशन योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2024-25 के दौरान 5,924.50 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान
खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब सरकार द्वारा प्रदेश के नागरिकों की भलाई के लिए विभिन्न योजनाएं लागू की गई हैं जिनके तहत पंजाबियों को लाभ मिल रहा है। इसी तर्ज पर कुछ समय पहले सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री डॉ. बलजीत कौर के निर्देशों के तहत राज्य में स्टेट पेंशन योजना के लाभार्थियों की पहचान के लिए विभाग द्वारा सर्वेक्षण करवाया गया। विभाग द्वारा प्रस्तुत सर्वेक्षण रिपोर्ट आने पर अयोग्य लाभार्थियों का पर्दाफाश हुआ है।
सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा कराए गए सर्वेक्षण की रिपोर्ट के अनुसार पिछले साल 2023-24 के दौरान स्टेट पेंशन योजना के तहत पेंशन प्राप्त कर रहे 33,48,989 लाभार्थियों में से 1,07,571 लाभार्थी अयोग्य पाए गए हैं, जिनसे 41.22 करोड़ रुपये की वसूली की गई है।
मंत्री ने बताया कि पिछले साल के दौरान पेंशन योजना के तहत 106521 पेंशनरों को मृतक, 476 पेंशनरों को एनआरआई और 574 पेंशनरों को सरकारी पेंशनर पाया गया। इस प्रकार कुल 1,07,571 लाभार्थियों को पेंशन योजना के तहत अयोग्य पाया गया है। प्रदेश सरकार द्वारा इन लाभार्थियों से 41.22 करोड़ रुपये की वसूली की गई है।
बलजीत कौर ने बताया कि कुल 1,07,571 लाभार्थियों से 41.22 करोड़ रुपये की वसूली की गई है जिनमें अमृतसर जिले में 5,375 लाभार्थियों से 3.50 करोड़ रुपये, बरनाला में 3,402 लाभार्थियों से 1.77 करोड़ रुपये, बठिंडा में 16,099 लाभार्थियों से 1.08 करोड़ रुपये, फरीदकोट में 2,546 लाभार्थियों से 95.15 लाख रुपये, फतेहगढ़ साहिब में 3,049 लाभार्थियों से 61.38 लाख रुपये, फिरोजपुर में 4,018 लाभार्थियों से 48.52 लाख रुपये, फाजिल्का में 4,965 लाभार्थियों से 80.24 लाख रुपये, गुरदासपुर में 7,738 लाभार्थियों से 7.88 करोड़ रुपये, होशियारपुर में 5,838 लाभार्थियों से 1.74 करोड़ रुपये, जालंधर में 6,404 लाभार्थियों से 1.41 करोड़ रुपये, कपूरथला में 4,034 लाभार्थियों से 1.61 करोड़ रुपये, लुधियाना में 6,993 लाभार्थियों से 1.77 करोड़ रुपये, मानसा में 4,329 लाभार्थियों से 82.92 लाख रुपये, मोगा में 1721 लाभार्थियों से 1.00 करोड़ रुपये, श्री मुक्तसर साहिब में 5,489 लाभार्थियों से 78.85 लाख रुपये, एस.बी.एस. नगर में 4,043 लाभार्थियों से 63.33 लाख रुपये, पठानकोट में 1,480 लाभार्थियों से 2.75 करोड़ रुपये, पटियाला में 7,201 लाभार्थियों से 2.78 करोड़ रुपये, रूपनगर में 2,906 लाभार्थियों से 37.98 लाख रुपये, संगरूर में 5,211 लाभार्थियों से 6.89 करोड़ रुपये, एस.ए.एस. नगर में 2,355 लाभार्थियों से 21.11 लाख रुपये, और तरनतारन में 2,375 लाभार्थियों से 1.27 करोड़ रुपये की रिकवरी शामिल है।
मंत्री ने आगे बताया कि इसके अलावा स्टेट पेंशन योजना के तहत इसी प्रकार चालू वित्तीय वर्ष 2024-25 के अप्रैल महीने के दौरान 3,797 लाभार्थी अयोग्य पाए गए हैं और उनसे 3.12 करोड़ रुपये की वसूली की गई है। इस प्रकार स्टेट पेंशन योजना के तहत कुल 44.34 करोड़ रुपये की रिकवरी की गई है।
मंत्री ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बुजुर्गों, विधवाओं, आश्रित बच्चों और दिव्यांगों को 1500 रुपये प्रति माह पेंशन की अदायगी लाभार्थियों के बैंक खातों में की जा रही है। इसके अलावा उन्होंने बताया कि स्टेट पेंशन योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 5924.50 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि मई 2024 तक 1501.17 करोड़ रुपये की राशि लाभार्थियों की पेंशन के लिए सरकार द्वारा खर्च की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि पेंशन योजनाओं के लिए मासिक खर्च लगभग 502 करोड़ रुपये होता है।
उन्होंने बताया कि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे जल्द ही पेंशन का लाभ ले रहे लाभार्थियों की जांच का कार्य पुनः शुरू करें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार प्रदेश के नागरिकों को स्वच्छ प्रशासन प्रदान करने के लिए पूरी ईमानदारी के साथ लगातार काम कर रही है।

The post पंजाब में स्टेट पेंशन योजना के तहत मृतकों, एनआरआई और सरकारी पेंशनरों और लाभार्थियों से की 44.34 करोड़ की रिकवरी first appeared on Khabar Khaas.