Sunday , July 21 2024

पंजाब पुलिस ने प्रदेश भर में ड्रग हॉटस्पॉट्स पर विशेष घेराबंदी और तलाशी मुहिम चलाई

डीजीपी पंजाब की हिदायतों उपरांत पुलिस स्टेशनों में तैनात पुलिस बल में बड़ा फेरबदल जारी
स्पेशल डीजीपी अर्पित शुक्ला ने एसएएस नगर में खुद संभाली मुहिम की कमान
प्रदेश भर में 450 से अधिक पुलिस टीमों ने 280 ड्रग हॉट स्पॉट्स पर चलाया विशेष अभियान
140 मामले दर्ज, 166 व्यक्तियों को किया गिरफ्तार; 2.7 किलो हेरोइन, 1.50 लाख रुपए की ड्रग मनी बरामद
खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब पुलिस ने रविवार को नशे के लिए पहचान किए गए हॉटस्पॉट्स और संवेदनशील क्षेत्रों में नशा स्प्लाई की कड़ी को बिक्री के स्तर से तोड़ने के उद्देश्य से व्यापक राज्य स्तरीय घेराबन्दी और तलाशी ऑपरेशन (सीएएसओ) चलाया गया। डीजीपी गौरव यादव के निर्देशों पर सभी 28 जिलों में सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक एक ही समय चलाया गया। सभी रेंजों के एडीजीपीज़/ आईजीपीज़/डिआईजीज़ और सीपीज़/एसएसपीज़ को अपने-अपने जिले में निजी तौर पर इस ऑपरेशन के दौरान निगरानी करने के लिए कहा गया था। एसएएस नगर मोहाली में स्पेशल डीजीपी लॉ एंड ऑर्डर अर्पित शुक्ला ने इस ऑपरेशन की कमान खुद संभाली। इस दौरान उनके साथ डीआईजी रोपड़ रेंज नीलांबरी जगदले और एसएसपी डॉ. सन्दीप गर्ग के साथ इस ऑपरेशन में शामिल हुए। शुक्ला ने कहा कि पंजाब पुलिस की तरफ से सरहदी राज्य से नशों के ख़ात्मे के लिए बहु-स्तरीय रणनीति-इन्फोर्समेंट, डी-एडिक्शन और प्रीवेंशन (ईडीपी) – अपनाई गई है।
उन्होंने कहा कि इस बहु-स्तरीय रणनीति के इन्फोर्समेंट हिस्से के अंतर्गत, पुलिस की तरफ से छोटे नशा तस्करों पर मामला दर्ज करके नशा सप्लाई की कड़ी को बिक्री के स्तर से ही तोड़ने पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। इसके साथ ही एनडीपीएस एक्ट की धारा 68एफ के अंतर्गत बड़ी मछलियों की ग़ैर-कानूनी जायदादों को भी ज़ब्त किया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि सरहद पार से नशों की तस्करी को रोकने के लिए सरहद के साथ सुरक्षा की दूसरी कतार को भी मज़बूत किया गया है।
स्पेशल डीजीपी ने कहा कि डीजीपी पंजाब के स्पष्ट निर्देशों के बाद कांस्टेबल रैंक से लेकर इंस्पेक्टर रैंक तक के सभी पुलिस मुलाजिमों, जो तीन या तीन से अधिक सालों से थानों में तैनात हैं, का राज्य भर के थानों में बड़े स्तर पर फेरबदल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों को एन.डी.पी.एस. एक्ट के अंतर्गत दर्ज किये सभी मामलों के अगले और पिछले संबंधों की जाँच करने और नशा तस्करों के साथ सांठगांठ में शामिल सभी व्यक्तियों के खि़लाफ़ सख़्त कार्रवाई करने के लिए स्पष्ट तौर पर कहा गया है। उन्होंने कहा कि जेलों में बंद सभी नशा तस्करों पर भी नज़र रखी जा रही है।
स्पेशल डीजीपी ने बताया कि राज्य में से नशों की बीमारी को जड़ से समाप्त करने के लिए पंजाब पुलिस के सख़्त यत्नों स्वरूप 2017 से अब तक हेरोइन की बरामदगी में 5.6 गुणा (567 फ़ीसदी) वृद्धि हुई है। ज़िक्रयोग्य है कि 2023 में पंजाब पुलिस की तरफ से रिकॉर्ड 1,346 किलोग्राम हेरोइन ज़ब्त की गई है जबकि 2022 में 594 किलोग्राम, 2021 में 571 किलोग्राम, 2020 में 760 किलोग्राम, 2019 में 460 किलोग्राम, 2018 में 424 किलोग्राम और 2017 में 179 किलोग्राम हेरोइन ज़ब्त की गई थी।इस ऑपरेशन में 3000 से अधिक पुलिस कर्मचारियों और अधिकारियों की 450 से अधिक टीमों ने 280 जगहों पर यह ऑपरेशन चलाया। इस विशेष ऑपरेशन संबंधी विवरण साझा करते हुए स्पैशल डीजीपी ने बताया कि 3000 से अधिक पुलिस मुलाजिमों वाली 450 से अधिक पुलिस टीमों ने राज्य भर के 280 ड्रग हॉटस्पॉट्स पर यह ऑपरेशन चलाया। स्पेशल डीजीपी ने बताया कि पुलिस टीमों ने 2.7 किलोग्राम हेरोइन, 1.50 लाख रुपए की ड्रग मनी, 12.2 किलो भुक्की, 5820 नशीली गोलियाँ और भारी मात्रा में जायज़ और नाजायज शराब और लाहन बरामद करने के अलावा 16 मोटर साइकिल और तीन कारें ज़ब्त की हैं।
मार्च 2022 से अब तक नशों के ख़ात्मे के लिए की गई कार्रवाई
गिरफ़्तार किये तस्कर/सप्लायरः 35,385
2 किलोग्राम और इससे अधिक हेरोइन समेत पकड़ीं बड़ी मछलियां 356
कुल एफआईआर दर्जः 25,887
कमर्शियल मात्रा की कुल एफआईआरः 3,256
जायदाद ज़ब्तः 200 करोड़ रुपए की 459 जायदादें
कुल हेरोइन बरामदः 2,309 किलोग्राम
कुल अफ़ीम बरामदः 2,218 किलोग्राम
कुल भुक्की बरामदः 1,050 क्विंटल
कुल गाँजा बरामदः 2,568 किलोग्राम
कुल आईसीई ड्रग बरामदः 46 किलोग्राम
फारमा ओपिओइड की कुल गोलियां/ कैप्सूल/टीके/शीशियं बरामदः 4.16 करोड़
कुल ड्रग मनी बरामदः 24.55 करोड़ रुपए
एन.डी.पी.एस. मामलों में भगौड़ों की गिरफ़्तारीः 2,956
पी.आई.टी.-एन.डी.पी.एस. एक्ट के अंतर्गत तैयार प्रस्तावः 89

The post पंजाब पुलिस ने प्रदेश भर में ड्रग हॉटस्पॉट्स पर विशेष घेराबंदी और तलाशी मुहिम चलाई first appeared on Khabar Khaas.