Sunday , July 21 2024

ज़मीन के इंतकाल के लिए 3000 रुपए की रिश्वत लेते पटवारी विजिलेंस ने किया गिरफ्तार

शिकायतकर्ता से पहले भी ले चुका था 5000 रुपए की रिश्वत
खबर खास, चंडीगढ़ :
पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने राज्य में भ्रष्टाचार के विरुद्ध चलाई मुहिम के दौरान शुक्रवार को फतेहढ़ साहिब जिले में तैनात एक राजस्व पटवारी हरदीप सिंह को 3000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों काबू किया है।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए विजिलेंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि उपरोक्त राजस्व कर्मचारी को गाँव दादूमाजरा, जि़ला फतेहढ़ साहिब के निवासी मलकीत सिंह द्वारा दर्ज करवाई गई शिकायत के आधार पर गिरफ़्तार किया गया है।
उन्होंने आगे बताया कि शिकायतकर्ता ने विजिलेंस ब्यूरो से सम्पर्क करके दोष लगाया है कि उक्त पटवारी ने पहले भी उससे 4 एकड़ ज़मीन का इंतकाल उसके नाम करवाने के लिए 5000 रुपए रिश्वत के तौर पर लिए थे। उसके बाद इन 4 एकड़ में से शिकायतकर्ता ने 2 एकड़ ज़मीन अपनी पत्नी के नाम पर तबदील कर दी थी और इस दो एकड़ का इंतकाल दर्ज करवाने के लिए उक्त पटवारी ने फिर 5000 रुपए की रिश्वत की माँग की थी परन्तु सौदा 4000 रुपए में तय हो गया। उसने आगे बताया कि मुलजिम पटवारी ने एडवांस के तौर पर 1000 रुपए ले लिए थे।
प्रवक्ता ने बताया कि इस शिकायत की प्राथमिक जांच के उपरांत विजिलेंस ब्यूरो की टीम ने जाल बिछाया जिसके अंतर्गत उक्त मुलजिम पटवारी को दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में शिकायतकर्ता से 3000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों काबू कर लिया।
उन्होंने बताया कि इस सम्बन्धी उक्त मुलजिम के खि़लाफ़ विजिलेंस ब्यूरो के थाना पटियाला रेंज में भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के अंतर्गत केस दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि मुलजिम को कल अदालत में पेश किया जायेगा और इस मामले की आगे की कार्यवाही जारी है।