Monday , March 4 2024

बोर्ड में पहली बार , 10वीं में दो और 12वीं में एक विषय में फेल छात्र परीक्षाफल सुधार परीक्षा दे सकेंगे

देहरादून : उत्तराखंड बोर्ड की 27 फरवरी से शुरू हो रही वर्ष 2024 की मुख्य परीक्षा में परीक्षा वर्ष 2023 के एक हजार से अधिक परीक्षार्थी दूसरी बार परीक्षाफल सुधार परीक्षा देंगे। परीक्षा देने वालों में 646 परीक्षार्थी 10वीं और 442 छात्र 12वीं के हैं।

इसके बाद इन छात्र-छात्राओं को परीक्षा देने का एक अन्य मौका मिलेगा। उत्तराखंड बोर्ड में पहली बार इस तरह की व्यवस्था की गई है कि 10वीं में दो और 12वीं में एक विषय में फेल छात्र परीक्षाफल सुधार परीक्षा दे सकते हैं। फेल छात्र-छात्राओं के अलावा वे छात्र भी परीक्षा दे सकते हैं, जो यह समझते हैं कि उन्हें कम अंक मिले हैं।

मुख्य परीक्षा के अलावा ऐसे छात्र-छात्राओं को परीक्षाफल सुधार के तीन अवसर दिए जा रहे हैं। जो परीक्षा देकर वह अपना परीक्षाफल सुधार सकते हैं। विभाग के मुताबिक, वर्ष 2023 की मुख्य परीक्षा का परिणाम घोषित होने के बाद दो महीने बाद परीक्षाफल सुधार परीक्षा कराई गई थी। इसके बाद अब 27 फरवरी से मुख्य परीक्षा के साथ दूसरी परीक्षाफल सुधार परीक्षा होगी।

परीक्षार्थियों को ये मिल रहा लाभ
परीक्षाफल सुधार परीक्षा से 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं को पास होने का अवसर मिल रहा है। यदि कोई छात्र 10वीं में दो और 12वीं में एक विषय में फेल है। परीक्षा परिणाम आने के दो महीने बाद होने वाली परीक्षा में यदि वह पास हो जाता है तो उसका एक साल खराब होने से बच रहा है, जबकि अन्य छात्र इस परीक्षा के माध्यम से अपना परीक्षाफल सुधार सकते हैं। उत्तराखंड बोर्ड के अधिकारियों के मुताबिक, छात्र-छात्राओं को मुख्य परीक्षा के अलावा पास होने के लिए तीन अवसर दिए जा रहे हैं।