Friday , July 19 2024

मान सरकार की ‘विकास क्रांति’ रैली को मिला पंजाब के लोगों का भरपूर समर्थन

होशियारपुर, 18 नवंबरः पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की आज यहाँ ‘विकास क्रांति’ रैली में लोगों के भारी इक्ट्ठ ने राज्य सरकार की जनहितैषी और विकासोन्मुखी योजनाओं को मिले रहे भरपूर समर्थन की गवाही भरी।

 

होशियारपुर के लोगों को तोहफ़े के तौर पर 867 करोड़ रुपए के विकास प्रोजेक्टों का उद्घाटन/नींव पत्थर रखने/ के ऐलान के बाद इक्ट्ठ को संबोधन करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि यह एक ऐतिहासिक मौका है जब समूचे कंडी क्षेत्र की किस्मत बदल रही है। उन्होंने कहा कि यह प्रोजैक्ट इस क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देंगे और लोगों के जीवन में खुशहाली लाएंगे। भगवंत सिंह मान ने कहा कि पिछली सरकारें इस क्षेत्र को अनदेखा करती रही हैं, परन्तु उनकी सरकार इस क्षेत्र के सर्वांगीण विकास के लिए वचनबद्ध है।

 

मुख्यमंत्री ने अरविन्द केजरीवाल को एक महान और क्रांतिकारी नेता बताया जिसने आम आदमी को भारतीय राजनीति केंद्रीय मंच पर लाने का हौसला किया है। उन्होंने कहा कि यह न तो कोई राजनैतिक रैली है और न ही शक्ति प्रदर्शन, बल्कि यह समागम पूर्ण रूप में होशियारपुर के विकास को समर्पित है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि आज राज्य के कोने-कोने में बेमिसाल विकास देखने को मिल रहा है और यह आम आदमी सरकार केवल 18 महीनांे के शासन का नतीजा है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब अस्पतालों, स्कूलों में मुकम्मल तौर पर तबदीली देखने को मिल रही है और आम आदमी की भलाई के लिए नये मैडीकल कालेज बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह फ़ैसले उन लोगों की तरफ से ही लिए जा रहे हैं, जो ज़मीनी स्तर पर लोगों की समस्याओं से अवगत हैं। भगवंत सिंह मान ने कहा कि रिवायती राजनैतिक पार्टियों ने राज्य को बर्बादी की कगार पर ला खड़ा किया है और अब वह बेशर्मी से नैतिकता का राग अलापने लगीं हुई हैं।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सुखबीर बादल और उसके साथियों ने राज्य के हित बेच दिये हैं, आम आदमी का जीवन बर्बाद कर दिया है और अब वह आम आदमी पार्टी को मलंगों की पार्टी कह कर पंजाब के नौजवानों का अपमान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी के पास बुद्धिजीवी नेता हैं, जिन्होंने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रमुख संस्थाओं में पढ़ाई की है और इन सभी नेताओं ने राजनीति में आने से पहले अपने-अपने क्षेत्रों में अपनी योग्यता के बखूबी सबूत दिए हैं। भगवंत सिंह मान ने कहा कि यह नेता जिनको पंजाबी के मूल शब्दों का उच्चारण तक नहीं करना आता, वह राज्य और यहाँ के लोगों के बारे निराधार टिप्पणी कर रहे हैं।

 

मुख्यमंत्री ने भविष्यवाणी करते हुये कहा कि लोग इन तानाशाह नेताओं से इतने ऊब चुके हैं कि उन्होंने आने वाले आम चुनावों में राज्य की सभी 13 और चंडीगढ़ की एक सीट ‘आप’ की झोली में डालने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि आने वाले लोक सभा चुनाव में आकंड़ा 13-0 का होगा जहाँ 13 ‘ आप’ के हक में होंगे और बाकी पार्टियों के खाते तक नहीं खुलेंगे। भगवंत सिंह मान ने कहा कि अकाली दल के प्रमुख द्वारा उनके खि़लाफ़ मानहानि का कोई भी केस दायर करने के लिए वह पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने कहा कि वह बादल परिवार की करतूतों को लोगों सामने नंगा करने के लिए इस केस का स्वागत करेंगे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि रिवायती पार्टियाँ उनके साथ ईर्ष्या करती हैं क्योंकि वह एक साधारण परिवार के साथ सम्बन्धित हैं और लोगों की भलाई यकीनी बनाने के लिए अथक मेहनत कर रहे हैं। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इन नेताओं को हमेशा यह विश्वास था कि उनके पास शासन करने का ईश्वरीय अधिकार है, जिस कारण उनको यह बात हज़म नहीं हो रही कि एक आम आदमी शासन को इतनी कुशलता के साथ कैसे चला रहा है। उन्होंने कहा कि इन नेताओं ने लम्बा समय लोगों को मूर्ख बनाया है परन्तु अब लोग इनके भ्रामक प्रचार से प्रभावित नहीं होंगे।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह खुशी की बात है कि लोगों ने महलों या बड़े घरों में रहने वाले और ‘काका जी’ और ‘बीबा जी’ के नामों से जाने जाते नेताओं को सिरे से नकार दिया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि यह मौकाप्रस्त नेता कभी भी लोगों के साथ नहीं खड़े परन्तु इन्होंने हमेशा उन लोगों का साथ दिया है जो उनके निजी हितों के लिए लाभप्रद थे। उन्होंने कहा कि इन नेताओं ने हमेशा राज्य और यहाँ के लोगों की अपेक्षा अपने स्वार्थों को पहल दी है।

 

प्रधानमंत्री नरेंन्दर मोदी पर निशान साधते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि वह ‘मुहावरो के मास्टर’ हैं जिन्होंने अपने पूरे कार्यकाल के दौरान लोगों को बेवकूफ़ बनाया है। उन्होंने लोगों को याद करवाया कि मोदी की तरफ से हरेक खाते में 15 लाख रुपए देने का वायदा किया गया है परन्तु अभी तक उनकी ग़ैर योजनाबद्ध नीतियों के कारण लोगों को बहुत नुक्सान बर्दाश्त करना पड़ा है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि 15 लाख रुपए तो छोड़ोे, होशियारपुर के साथ लगते लोक सभा हलका गुरदासपुर के लोग 2019 में इस सीट से भाजपा की टिकट पर चुने गए अपने संसद मैंबर सन्नी दियोल का चेहरा देखने का इन्तज़ार कर रहे हैं।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों ने आज़ादी से लेकर अब तक आम जनता को मूर्ख बनाया है। उन्होंने कहा कि इन पार्टियों ने लोगों की भलाई के लिए कोई ठोस काम नहीं किया और सिर्फ़ सत्ता का आनंद लिया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि लोग इन पार्टियों को उनके बुरे कामों के लिए कभी भी माफ नहीं करेंगे और आने वाले चुनाव में इनको और भी उपयुक्त सबक सिखाएँगे।

 

मुख्यमंत्री ने अफ़सोस जताया कि आज़ादी के 75 सालों में राज्य में सिर्फ़ तीन मैडीकल कालेज खोले गए जबकि अब आने वाले एक साल में राज्य में पाँच और मैडीकल कालेज खोले जाएंगे। उन्होंने कहा कि आने वाले सालों में राज्य के हर जिले में एक मैडीकल कालेज होगा। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इससे राज्य के लोगों को मानक इलाज और डाक्टरी शिक्षा मुहैया करवाई जायेगी।

 

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य सरकार विद्यार्थियों को मुकाबला परीक्षाओं के लिए प्रशिक्षण देने के लिए आठ हाई-टेक सैंटर खोल रही है। भगवंत मान ने कहा कि यह केंद्र नौजवानों को यू. पी. एस. सी. की परीक्षा पास करने और राज्य और देश में नामवर पदों पर बैठने के लिए मानक प्रशिक्षण प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का लक्ष्य नौजवानों को उच्च पदों पर बिठा कर सेवा करना यकीनी बनाना है।

 

मुख्यमंत्री ने दोहराया कि 26 जनवरी तक तहसील और ज़िला स्तर तक राज्य के सभी अस्पतालों को एक्स-रे मशीनों के साथ लैस कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि आगामी गणतंत्र दिवस तक सभी अस्पतालों में ऑपरेटरों समेत यह सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। भगवंत सिंह मान ने आगे कहा कि लोगों की लूट को रोकने के लिए डाक्टरों द्वारा लिखीं सभी दवाएँ भी अस्पताल में ही उपलब्ध होंगी।

 

इस दौरान इक्ट्ठ को संबोधन करते हुये दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने भगवंत मान सरकार का साथ देने के लिए लोगों से पूर्ण सहयोग की माँग की। उन्होंने कहा कि राज्य में विकास और खुशहाली की गति को बरकरार रखना समय की ज़रूरत है। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से समाज के हर वर्ग की भलाई के लिए मिसाली प्रयास किये जा रहे हैं।

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने लोगों को समरण करवाया कि पद संभालने के उपरांत न तो पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और न ही कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कभी भी होशियारपुर आने की जहमत उठायी। उन्होंने कहा कि केंद्रीय राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने भी होशियारपुर से संसद मैंबर बन कर कभी भी इस क्षेत्र की तरफ फिर नहीं देखा। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री पद संभालने के बाद इस क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देने के लिए लगातार इस क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं।

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब हर क्षेत्र में नयी ऊँचाईयों को छू रहा है जोकि अपने आप में ही एक रिकॉर्ड है। उन्होंने कहा कि भगवंत सिंह मान के रूप में पंजाब को अब तक का सर्वाेत्तम मुख्यमंत्री मिला है क्योंकि वह समाज के हर वर्ग की भलाई के लिए अथक मेहनत कर रहे हैं। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पंजाब हर क्षेत्र में तेज़ी के साथ विकास की राह पर आगे बढ़ रहा है जोकि बेमिसाल उपलब्धी है।

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने सरकारी स्कूलों को स्कूल आफ एमिनेंस में बदलने के लिए भगवंत सिंह मान का नेतृत्व वाली राज्य सरकार की सराहना की। उन्होंने कहा कि कोई भी प्राईवेट स्कूल इन सरकारी स्कूलों का मुकाबला नहीं कर सकता। उन्होंने आगे कहा कि सभी सरकारी स्कूलों की इसी तरह नुहार बदली जायेगी। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पिछले 18 महीनों के दौरान भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार ने राज्य में हर क्षेत्र में बड़ी क्रांति लाई है जबकि पिछली सरकारों में से किसी ने भी इस संबंधी कभी नहीं सोचा।

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार जल्द ही नागरिक केंद्रित सेवाएं लोगों के घर-घर तक पहुँचाने की शुरुआत करेगी। उन्होंने कहा कि लोगों की ड्योढ़ी पर यह सेवाएं देने से उनको आसानी से अपने प्रशासनिक काम करवाने में मदद मिलेगी। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि राज्य सरकार का मकसद यह यकीनी बनाना है कि लोगों को नागरिक केंद्रित सेवाओं का लाभ लेने में किसी भी दिक्कत का सामना न करना पड़े।