Saturday , December 3 2022

कुत्ता कर रहा मजिस्ट्रेट की गाड़ी की सवारी

देहरादून/ऋषिकेश।सरकारी गाड़ियों का मजा तो आजकल कुत्ते ले रहे हैं। वो भी जब गाड़ी मजिस्ट्रेट साहब की हो तो कुत्ते का रुतबा भी बढ़ जाता है। जी हाँ.. ऐसा ही एक नजारा ऋषिकेश में देखने को मिला है…. जहाँ साहब की सीट पर कुत्ते साहब बैठे नजर आये। साहिब लोगो के कुत्ते हैं जनाब ….तो इन कुत्तों को भी साहब ही कहना पड़ रहा है क्योंकि साहब की सीट पर जो बैठे हैं। ये जो सरकारी गाड़ी आप देख रहे हैं इस गाड़ी के पीछे तो मजिस्ट्रेट लिखा हुआ है वहीं आगे तहसीलदार का बोर्ड लगा है। अब नौकरशाही है साहब ..कहीं भी कुछ भी लिख सकते हैं।

वैसे तो प्रोटोकॉल के हिसाब से साहब लोगो की सीट पर किसी को भी बैठने की अनुमति नही होती लेकिन जब कुत्ता साहब का हो तो वो साहब के बिस्तर से लेकर गाड़ी में पूरे हक के साथ बैठ सकता है।औऱ कुछ हो न हो लेकिन साहब लोगो का जो कुत्ता प्रेम है उसके चर्चे अक्सर आम होते रहते हैं।
कुत्तों से प्रेम करना कोई गलत बात तो है नही लेकिन प्रेम इतना भी न हो कि साहब की ऑफिस की सीट पर भी अब कुत्ते बैठने लगें। बारहाल । जो भी हो लेकिन आजकल मजे तो साहब लोगो के कुत्ते ही ले रहे हैं।