Breaking News

सावधान! खड़े होकर पानी पीने से किडनी पर बहुत ही बुरा असर पड़ता है

मानव के शरीर का तकरीबन 70 प्रतिशत हिस्सा पानी से बना है। यही कारण है की जिंदा रहने के लिए पानी पीना बहुत आवश्यक है। इसको पीने से शरीर के विषैले पदार्थ बहुत ही आसानी से बाहर निकल जाते हैं। मगर क्या आप जानते हैं कि खड़े होकर पानी पीने से सेहत पर बहुत ही बुरा असर पड़ता है। अगर आप भी प्रतिदिन फ्रिज से बोतल निकालकर एक ही घूंट में खड़े-खड़े पानी पी लेते हैं तो आज से एेसा करना बंद कर दें। नहीं तो आपकी यही आदत आपके लिए बहुत ही खतरनाक बन सकती है। आज हम आपको खड़े होकर पानी पीने से सेहत को होने वाले नुकसान के बारे में बताएंगे।

किडनी की बीमारी
खड़े होकर पानी पीने से किडनी पर बहुत ही बुरा असर पड़ता है। इस तरह पानी पीने से वह बिना छने ही गुर्दे से निकल जाता है। इससे किडनी खराब होने के साथ यूरीन मार्ग में इंफैक्शन भी हो सकता है। इसके साथ ही दिल की बीमारियां होने का भी डर बना रहता है।

पाचन तंत्र
बैठकर पानी पीने से मांसपेशियां के साथी ही नर्वस सिसटम भी बहुत आराम से काम करता है। मगर जब आप खड़े होकर पानी पीते हैं तो यह सीधा पेट की दीवारों पर गिरता है जो आसपास के अंगों को बुरी तरह प्रभावित करता है। इससे पाचन तंत्र कमोजर होना शुरू हो जाता है। अगर आपका भी पाचन तंत्र बहुत कमजोर है तो इसके पीछे का एक कारण खड़े होकर पानी पीना भी हो सकता है।

Loading...

जोड़ों में दर्द
खड़े होकर पानी पीने से जोड़ों के तरल पदार्थों में कमी होने लगती है, जिससे जोड़ों में दर्द और गठिया जैसी गंभीर समस्या पैदा हो जाती है।

प्यास नहीं बुझती
हमेशा बैठकर ही पानी पीना चाहिए। इस तरह पानी पीने से प्याज जल्दी बुझ जाती है। जबकि खड़े होकर पानी पीने का सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि एेसा करने से प्यास नहीं बुझती।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/