Breaking News

चिदंबरम ने पीएम मोदी पर वैक्सीनेशन को लेकर कसा था तंज, अब सुधारी गलती

कोरोना संकट के बीच देश में वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर खूब राजनीति हुई. कांग्रेस सहित तमाम विपक्षी पार्टियों ने वैक्सीन को लेकर मोदी सरकार पर खूब हमले किए, लेकिन पीएम मोदी ने अब इस मुद्दे पर राजनीति करने का मौका भी छीन लिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार की शाम 5 बजे एक बार फिर से देश को संबोधित (PM Modi addressed Nation) किया. अपने संबोधन में पीएम मोदी ने बड़ा ऐलान किया. देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि राज्यों के पास 25 प्रतिशत वैक्सीन की जिम्मेदारी दी थी, उसे केंद्र अपने पास ले रही है. विश्व योग दिवस 21 जून को 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के युवाओं को मुफ्त वैक्सीन केंद्र सरकार देगी.

 

पीएम मोदी की नई वैक्सीन पॉलिसी पर भी कांग्रेस ने निशाना साधा. कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम (P Chidambaram) ने भी नई वैक्सीन पॉलिसी को लेकर पीएम मोदी को घेरने की कोशिश की थी. हालांकि जैसे ही सोशल मीडिया पर उन्हें एक यूजर्स ने सच का आईना दिखाया, चिदंबरम ने भी अपनी गलती स्वीकार कर ली. चिदंबरम ने ट्विटर पर लिखा कि ‘मैंने एएनआई से कहा कृपया हमें बताएं कि किस राज्य सरकार ने मांग की थी कि उसे सीधे टीके खरीदने की अनुमति दी जानी चाहिए. सोशल मीडिया एक्टिविस्ट्स ने ऐसा अनुरोध करते हुए पश्चिम बंगाल के सीएम के पत्र की कॉपी पीएम को पोस्ट की है. मैं गलत था. मैं सही खड़ा हूं.’

बता दूं कि नई वैक्सीन पॉलिसी पर तंज कसते हुए कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा था कि अंतर्निहित संदेश यह है कि मोदी सरकार ने अपनी गलतियों से सीखा है. उन्होंने 2 मौलिक गलतियां कीं उन गलतियों को सुधारने का प्रयास किया. लेकिन हमेशा की तरह झांसा देने के लिए, पीएम ने अपनी गलतियों के लिए विपक्ष को दोषी ठहराया है. चिदंबरम ने कहा कि, किसी ने नहीं कहा कि केंद्र को टीके नहीं खरीदने चाहिए. वह (पीएम) अब राज्य सरकारों पर आरोप लगाते हुए कहते हैं वे टीके खरीदना चाहते थे इसलिए हमने उन्हें अनुमति दी.

Loading...

कांग्रेस नेता ने कहा था कि आइए जानते हैं किस सीएम, किस राज्य सरकार ने किस तारीख को मांग की कि उन्हें टीके खरीदने की अनुमति दी जाए. पंजाब सरकार द्वारा निजी अस्पतालों को दी गई कोरोना वैक्सीन के मुद्दे पर पी चिदंबरम ने कहा कि, मैं मानता हूं कि पंजाब सरकार को निजी अस्पतालों को वैक्सीन नहीं देनी चाहिए थी. लेकिन उस नीति के लागू होने के कुछ दिनों में निजी अस्पतालों को दिए गए टीकों का अनुपात क्या है? शायद 1-2%. उन्होंने इसे अब ठीक कर दिया है.

अपने इसी बयान को लेकर अब चिदंबरम ने अपनी गलती स्वीकार कर ली है. चिदंबरम ने आज कहा कि मैंने एएनआई से कहा ‘कृपया हमें बताएं कि किस राज्य सरकार ने मांग की थी कि उसे सीधे टीके खरीदने की अनुमति दी जानी चाहिए’. सोशल मीडिया एक्टिविस्ट्स ने ऐसा अनुरोध करते हुए पश्चिम बंगाल के सीएम के पत्र की कॉपी पीएम को पोस्ट की है. मैं गलत था.

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/