Breaking News

UP: अब माँ-बाप की सेवा न करने वाले हो जायें सावधान, योगी सरकार ला रही है ये सख्त कानून

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बुजुर्गों के लिए बेहतरीन पहल की शुरुआत करने जा रही है. इस पहल के तहत अगर कोई बेटा अपने बुजुर्ग माता-पिता की सेवा करने में किसी तरह का आनाकानी करता है तो वह उनके संपत्ति से बेदखल हो जाएगा. इसी कड़ी में प्रदेश सरकार बुजुर्गों की समाजिक सुरक्षा के लिए नया कानून बनाने जा रही है. इस कानून के तहत बुजुर्ग माता-पिता की सेवा करना उनके बच्चों के लिए अनिवार्य हो जाएगा.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ऐसे बच्चों के लिए सख्त कानून ला रही है.  जो अपने बुजुर्ग माता-पिता की सेवा नहीं करते हैं.  ऐसे बच्चों को उनकी संपत्ती से बेदखल कर दिया जाएगा. इसके लिए योगी सरकार  ‘उत्तर प्रदेश  माता-पिता और सीनियर सिटिजन के भरण पोषण एवं कल्याण नियमावली 2014’ (Uttar Pradesh Maintenance and Welfare of Parents and Senior Citizens Rules, 2014) को शामिल करने का प्रस्ताव सरकार को भेजा है.

Loading...

यह नियमावली 2014 में ही बना दी गई थी. कई बार सुनने को मिलता है कि जब माता-पिता बुजुर्ग हो जाते हैं तो बच्चे उनकी प्रॉपटी से उनको बेदखल कर देते हैं. अपने पैरेंटस के साथ परायों जैसा व्यवहार करने लगते हैं. लेकिन इस अध्यादेश की मंजूरी मिलने के बाद ऐसा नहीं  होगा.

राज्य विधि आयोग की ओर से सरकार को सौंपे गए इस प्रस्ताव के तहत अगर पैरेंटस अपने वारिस की शिकायत करते हैं तो उसकी ओर से दी गई  संपत्ति का बैनामा या दानपत्र निरस्त कर दिया जाएगा. आयोग ने  इस बारे में अपने सुझाव राज्य सरकार को सौंप दिए हैं.आयोग का कहना है कि अगर कोई बुजुर्ग शिकायत करता है कि उसका वारिस या उसके संपत्ति पर काबिज व्यक्ति उसकी सेवा नहीं कर रहा है तो उसको दी गई संपत्ति सरकार द्वारा वापस ले ली जाएगी.

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/