Breaking News

कोरोना वैक्सीन SPUTNIK V के इमरजेंसी यूज की मंजूरी के आवेदन पर आज चर्चा करेगी SEC

कोरोना वैक्सीन SPUTNIK V के इमरजेंसी यूज की मंजूरी की मांग वाले आवेदन पर चर्चा के लिए सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (SEC) आज बैठक करेगी. हाल ही में हैदराबाद में कोरोना के स्पूतनिक वी टीका के आपात उपयोग को लेकर डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज ने डीसीजीआई (DCGI) से संपर्क किया. उन्होंने ये मुलाकात वैक्सीन के आपात अपयोग की मंजूरी पाने के लिए की थी. इसके बाद कंपनी ने कहा कि वो समीक्षा प्रक्रिया के तहत दूसरे चरण की टेस्टिंग के सिक्योरिटी डाटा और तीसरे चरण की टेस्टिंग के आंकड़े प्रस्तुत करेगी.

हैदराबाद स्थित दवा कंपनी ने बताया था कि उन्होंने पिछले साल सितंबर में भारत में स्पूतनिक वी टीके के परीक्षण और वितरण के लिये रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) के साथ करार किया है. अभी भारत में स्पूतनिक वी टीके के तीसरे चरण की टेस्टिंग हो रही है. भारत में दो वैक्सीन को पहले ही इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिल चुकी है. ये दो वैक्सीन भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड है. अभी देश में स्वास्थ्य और पुलिस सेवा से जुड़े फ्रंटलाइन वर्कर्स को ये वैक्सीन लगाई जा रही है.  (आरडीआईएफ) के साथ करार किया है.

Loading...

अब तक इतने लोगों को मिली वैक्सीन

अब तक देश में 42 फीसदी रजिस्टर्ड फ्रंटलाइन वर्करों को कोरोना की वैक्सीन दी जा चुकी है, दरअसल फ्रंटलाइन वर्करों को कोरोना की डोज दिए जाने का सिलसिला 2 फरवरी से शुरू हुआ था जिसके तहत अभी तक 9 राज्यों में 60 फीसदी डोज दी जा चुकी हैं. वहीं 62 फीसदी स्वास्थकर्मा ऐसे हैं जिन्हें वैक्सीन की पहली डोज दिए एक महीना हो चुका है और मंगलवार तक उन्हें दूसरी डोज भी दी जा चुकी है. कुल मिलाकर मंगलवार तक 1.2 करोड़ कोरोना वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैं, जिनमें पहला डोज 64.7 लाख स्वास्थकर्मा और 41.1 लाख फ्रंटलाइन वर्करों को मिला.

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/