Breaking News

10 साल बाद भारतीय गेंदबाजों ने की बेहद ख़राब गेंदबाजी, बनाया ये शर्मनाक रिकॉर्ड

नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला चेन्नई के चेपॉक मैदान पर खेला जा रहा है. दो दिन के खेल में इंग्लैंड की टीम भारतीय टीम पर भारी पड़ी है. जो रूट के शानदार दोहरे शतक की बदौलत इंग्लैंड ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक आठ विकेट खोकर 555 रन बना लिए हैं. पांच गेंदबाजों के साथ उतरी टीम इंडिया 180 डालने के बाद मेहमान टीम को ऑलआउट नहीं कर सकी है. इसके अलावा भारतीय गेंदबाजों ने 19 नो बॉल डाले.

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में किसी भी टीम के गेंदबाजों द्वारा डाला गया यह दूसरा सर्वाधिक नो बॉल है. इससे पहले टीम इंडिया ने 10 पहले श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में 16 नो बॉल फेंके थे. भारत की ओर चेन्नई टेस्ट में बुमराह और नदीम ने छह-छह, इशांत शर्मा ने पांच जबकि अश्विन ने दो नो बॉल डाले.

Loading...

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सर्वाधिक नो बॉल डालने का रिकॉर्ड श्रीलंकाई टीम के गेंदबाजों के नाम है, जिन्होंने 2014 में चटगांव में दूसरे टेस्ट में बांग्लादेश की पारी के दौरान सर्वाधिक 21 गेंद नो बॉल डाले थे. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मैच अब तक छह गेंदबाजों को आजमाया है. भारत की ओर से बुमराह, अश्विन, इशांत और नदीम ने दो-दो विकेट लिए हैं. इशांत 2010 में भी कोलंबो में उस टेस्ट टीम का हिस्सा थे, जिसके गेंदबाजों ने 16 नो बॉल फेंके थे और इशांत ने उस समय भी दोनों पारियों में चार-चार नो बॉल फेंके थे. हालांकि भारत ने इस मैच में जीत हासिल की थी.

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/