Breaking News

गुरुवार से बिगड़ सकता है मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज, बारिश के साथ ओले और गर्जना के आसार

भोपाल। मध्य प्रदेश में हवा का रुख दक्षिणी-पूर्वी होने से बदली हवा की दिशा से राजधानी भोपाल समेत पूरे मध्य प्रदेश में न्यूनतम तापामान में बढ़ोतरी होने लगी है। इससे ठंड से कुछ राहत मिलने लगी है। हालांकि एक साथ तीन वेदर सिस्टम सक्रिय होने के चलते गुरुवार से मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज फिर बिगड़ सकता है। राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर बादल छाने लगेंगे। गुरुवार-शुक्रवार को भोपाल सहित प्रदेश के अधिकांश स्थानों में बारिश हो सकती है। इस दौरान कहीं-कहीं ओले गिरने की भी आशंका जताई जा रही है। इस दौरान दिन के तापमान में तो कमी दर्ज की जाएगी, लेकिन रात्रि के तापमान में इजाफा होगा।
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में पाकिस्तान और उससे लगे उत्तर भारत पर एक तीव्र आवृति वाला पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इस सिस्टम के प्रभाव से पश्चिमी राजस्थान पर एक प्रेरित चक्रवात बन गया है। साथ ही एक ट्रफ (द्रोणिका लाइन) उत्तरी केरल के तट से गुजरात के दक्षिणी भाग तक बना हुआ है। इन तीन सिस्टम के एक साथ सक्रिय होने के साथ ही हवाओं का रुख दक्षिणी और दक्षिण-पूर्वी हो गया है। वातावरण में नमी बढऩे के कारण पूरे प्रदेश में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज होने लगी है।
अफगानिस्तान पर बने सिस्टम के बुधवार को उत्तर भारत में प्रवेश करने की संभावना है। इस सिस्टम के कारण चार फरवरी से राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में बादल छाने लगेंगे। चार-पांच फरवरी को गरज-चमक के साथ बौछारें पडऩे की संभावना है। इस दौरान कहीं-कहीं ओले गिरने के भी आसार हैं।  बादल बने रहने के कारण दिन के तापमान में तो कमी दर्ज होगी, लेकिन रात का तापमान अपेक्षाकृत बढ़ा हुआ रहेगा। छह फरवरी से बादल छंटने लगेंगे और धीरे-धीरे मौसम साफ होने लगेगा। इससे एक बार फिर रात के तापमान में गिरावट होने लगेगी। इससे फिर वातावरण में ठंड बढऩे लगेगी। मौसम साफ होने के बाद एक बार फिर तापमान में गिरावट होने लगेगी।
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/